इस राज्य में अब पहचानपत्र के बिना भी लगेगी कोरोना वैक्सीन, सरकार ने लिया फैसला

कोरोना महामारी ने देश के हर कोने में अपना कहर बरपा रखा है वही ओडिशा में बुधवार को कोरोना संक्रमण के 10,982 नए केस सामने आए तथा 17 संक्रमितों की जान गई है। स्वास्थ्य विभाग के एक अफसर ने यह खबर दी। इस बीच राज्य सरकार ने ऐसे व्यक्तियों को कोरोना रोधी टीका लगाने का निर्णय लिया है जिन्हें संक्रमण का जोखिम ज्यादा है मगर जिनके पास कोई पहचापत्र नहीं है।

अतिरिक्त मुख्य सचिव, स्वास्थ्य पीके महापात्र ने बताया कि पहचान पत्र की कमी में ऐसे व्यक्तियों को टीके से वंचित नहीं किया जा सकता। उन्होंने कहा, ‘‘ऐसे संवेदनशील व्यक्तियों को पहचानपत्र नहीं होने की स्थिति में टीका लगाने से मना नहीं किया जा सकता। इनमें खानाबदोश लोग, कैदी, मानसिक स्वास्थ्य केंद्रों में रहने वाले लोग, वृद्धाश्रम में रहने वाले लोग, भिखारी आदि सम्मिलित हैं।’’

वही मंगलवार को 49,191 सैंपलों की जांच के पश्चात् ये नए मामले सामने आए। यहां जांच के पश्चात् संक्रमण की दर (टेस्ट पॉजिटिविटी रेट या टीपीआर) 22।32 फीसदी है। प्रदेश में टीपीआर शुक्रवार से 20 फीसदी से ज्यादा बनी हुई है। प्रदेश में फिलहाल 98,230 संक्रमितों का इलाज चल रहा है। अफसर ने बताया कि ओडिशा में संक्रमण के अब तक कुल 5,65,648 केस सामने आ चुके हैं तथा 2,232 व्यक्तियों की मौत हो चुकी है। नए मामलों में से 6,149 मामले पृथक-वास केंद्रों से सामने आए जबकि 4,833 मामले संक्रमितों के संपर्क में आए लोगों के हैं।सर्वाधिक 1,539 नए मामले खुर्दा जिले से हैं। तत्पश्चात, सुदंरगढ़ में 964, कटक में 885, अंगुल में 539 मामले तथा संबलपुर में 454 नए मामले सामने आए हैं।देश में कोरोना वायरस संक्रमण के 3,48,421 नए मामले सामने आए हैं।

गोवा में ऑक्सीजन की कमी से 26 मरीजों की मौत, स्वास्थ्य मंत्री ने खुद स्वीकार की यह बात

आंबेडकर नगर के 4 पुलिसकर्मी निलंबित, जहरीली शराब पीने से हुई थी 5 मौतें

यदि आपको भी है त्वचा से जुड़ा कोई रोग या व्यापार में हो रहा है घाटा तो जरूर अपनाएं ये उपाय, मिलेगा छुटकारा

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -