खचाखच भर चुकी हैं मुंबई-पुणे और गुजरात की ट्रेने, जून तक जगह नहीं

मुंबई: कोरोना महामारी का प्रकोप अब कम होने लगा है। इसी के चलते अब लोग जरूरी कामों के लिए सफर पर निकलने लगे हैं। यही कारण है कि ट्रेनों में यात्रियों की संख्या बढ़ने लगी है। अभी भी तमाम ट्रेनें निरस्त हैं, और कुछ के फेरे घटे हैं। इसी को देखते हुए अब दूसरे राज्यों, शहरों में जाने के लिए यात्रियों में रिजर्वेशन की मारामारी होने लगी है। मिली जानकारी के तहत आगे की यात्रा के लिए अभी से आरक्षण कराने वाले यात्रियों को मुंबई, पुणे, अहमदाबाद, सूरत आदि जाने के लिए मशक्कत करनी पड़ रही है।

आपको बता दें कि मुंबई, पुणे और गुजरात के लिए तो 30 जून तक ट्रेनें फुल हो गईं हैं। वहीँ दिल्ली जाने वाले यात्रियों के लिए कुछ राहत है। क्योंकि यहां की ट्रेनों में जगह मिल जा रही है। बीते शुक्रवार को जंक्शन के प्लेटफार्म नंबर सात से मुंबई के लिए रवाना हुई गोदान एक्सप्रेस खचाखच भरी नजर आई। आपको बता दें कि कोरोना सुरफू और लॉकडाउन का सबसे ज्यादा असर ट्रेनों के संचालन पर पड़ा है। ऐसे में अब जनजीवन सामान्य होने के हालात में यात्रियों ने भी सफर की तैयारी तेज कर दी है।

इसी के चलते अचानक टिकटों की बुकिंग में तेजी आ गई है। अगर हम मुंबई के बारे में बात करें तो महानगरी, कामायनी, बाम्बे मेल, तुलसी, गोदान और काशी एक्सप्रेस में 30 जून तक जगह मिलना मुश्किल है। ऐसे में इन ट्रेनों में बुकिंग हो चुकी है और इसी प्रकार सूरत जाने वाली ट्रेनों में ताप्ती गंगा, अहमदाबाद एक्सप्रेस में 30 जून तक जगह नहीं है। वहीँ पुणे रूट पर दाना एक्सप्रेस, मडुआडीह एक्सप्रेस, भागलपुर एक्सप्रेस में जगह नहीं है।

आखिर क्यों पांच सालों तक टीवी से गायब रही मोना सिंह? अभिनेत्री ने बताई ये वजह

बिग बॉस 15 का हिस्सा नहीं बनेगी यह अदाकारा, खुद किया खुलासा

'यूपी चुनाव से पहले ढहा दी जाएगी काशी-मथुरा मस्जिद, करवाए जाएंगे सांप्रदायिक दंगे'

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -