News Track: देश-दुनिया की बड़ी ख़बरें विस्तार से...

Apr 03 2018 08:22 PM

सुप्रीम कोर्ट का अपने फैसले पर रोक से इनकार: .सुप्रीम कोर्ट ने मंगलवार को एससी/एसटी एक्ट मामले में दायर पुनर्विचार याचिका पर खुली अदालत में सुनवाई की। कोर्ट ने अपने फैसले पर रोक लगाने से इनकार कर दिया। कहा, "हम एससी-एसटी एक्ट के खिलाफ नहीं हैं, पर बेगुनाह को सजा नहीं होनी चाहिए।'' अदालत ने सभी पार्टियों से दो दिन में जवाब मांगा है और इस मामले में 10 दिन बाद सुनवाई की जाएगी। 

राहुल गांधी  ‘राजनीतिक गिद्ध’: बीजेपी: सुप्रीम कोर्ट के एससी-एसटी एक्ट में बदलाव के फैसले के बाद सोमवार को दलितों के प्रदर्शन ने पूरे देश को हिलाकर रख दिया. एक तरफ जहां कांग्रेस सत्तारूढ़ बीजेपी को इस पूरे बवाल का जिम्मेदार ठहरा रही है तो वहीं अब बीजेपी ने भी कांग्रेस पर पलटवार किया है. बीजेपी ने कांग्रेस के आरोपों का जवाब देते हुए राहुल गांधी को मौके का फायदा उठाने वाला ‘राजनीतिक गिद्ध’ बताया है. 

पीएम का आदेश : वापस लिया जाए फेक न्‍यूज का फैसला: फर्जी खबर चलाने वाले पत्रकारों की मान्यता रद्द करने की खबर से सियासी गलियारों में हलचल तेज देख प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने साफ किया है कि ऐसा कोई भी फैसला नहीं लिया जाएगा. केंद्रीय सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय ने विज्ञप्ति जारी की थी कि फेक न्यूज लिखने वाले पत्रकारों की मान्यता हमेशा के लिए खत्म कर दी जाएगी. 

अंतरिक्ष का कचरा बन सकती है GSAT-6A सैटेलाइट: इसरो: इसरो का कहना है कि अगर GSAT-6A से स्पेस एजेंसी का संपर्क नहीं हो पाता तो यह अंतरिक्ष का कचरा बन सकता है. हालांकि, उन्होंने यह भी कहा कि उनके वैज्ञानिक सैटेलाइट से दुबारा संपर्क करने में सक्षम हैं और इसकी कोशिश कर रहे हैं.एक्सपर्ट्स के मुताबिक, दस साल के लिए ईंधन और मोटर्स से भरा हुआ ये कचरा काफी भारी हो सकता है .

पीएम ने किया 10 लाख मुआवजे का ऐलान: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इराक के मोसुल में मारे गए भारतीयों के परिजनों को 10-10 लाख रुपये मुआवजा देने की घोषणा की है. कल ही विदेश राज्‍य मंत्री वीके सिंह मोसुल से भारतीयों के अवशेषों को वापस भारत लेकर आए हैं. 39 भारतीयों को मोसुल में आईएसआईएस के लोगों ने मार डाला था. बता दें कि मुआवजे को लेकर वीके सिंह ने सोमवार को मीडिया के सामने विवादित बयान भी दिया था. 

 फेसबुक सिर्फ अमीरों के लिए नहीं है-जकरबर्ग: फेसबुक के को-फाउंडर मार्क जकरबर्ग ने एपल के सीईओ टिम कुक को जवाब दिया है। उन्होंने कहा कि कुक की ओर से हाल ही में उन पर लगाए गए आरोप बेबुनियाद हैं। उन्होंने कहा कि फेसबुक सिर्फ अमीरों के लिए नहीं है। अगर इसकी सर्विसेज के लिए यूजर्स से शुल्क लेने लगे तो यह बोझ हर कोई नहीं उठा पाएगा।