किसी आर्मी कमांडो से काम नहीं होती जापान के बुलेट ट्रेन कर्मचारियों की ट्रेनिंग

Aug 28 2018 01:06 PM
किसी आर्मी कमांडो से काम नहीं होती जापान के बुलेट ट्रेन कर्मचारियों की ट्रेनिंग

टोक्यो। आपने अक्सर सुना होगा की आर्मी के जवानो की ट्रेनिंग कितनी जबरदस्त होती है। इसी तरह अधिकतकर लोग यही मानते है कि सरकारी कर्मचारियों को काम के दौरान भी आराम ही करना होता है। लेकिन अब जापान से  बुलेट ट्रेन कर्मचारियों की ट्रेनिंग का ऐसा खुलासा हुआ है जो आपने कभी सोचा भी नहीं होगा। 

जापान नहीं है भारत से अलग, ऐसे हुआ सिद्ध

दरअसल जापान के एक अखबार ने हाल ही में बुलेट ट्रेन के कर्मचारियों की ट्रेनिंग को लेकर एक रिपोर्ट पेश की है। इस रिपोर्ट के बताया गया है कि इन कर्मचारियों को ट्रेनिंग के दौरान कितनी मुश्किलों से गुजरना पड़ता है। इस रिपोर्ट के मुताबिक ट्रैनिंग में एक पड़ाव ऐसा भी आता है जब इन कर्मचारियों को सुरंग में 300 किलोमीटर  प्रति घंटे की रफ्तार से चल रही बुलेट ट्रेन के ठीक बगल की लाइन में बैठना पड़ता है। इसके अलावा इन कर्मचारियों को सेल्फ डिफेन्स और मार्सल आर्ट की भी ट्रेनिंग दी जा रही है। 

जापान में पुलिस थाने से जूते चुराकर भागा बदमाश, अब ढूंढ रहे 3000 पुलिसवाले

इस मामले में कंपनी के आला अधिकारियों ने जापानी मीडिया को बताया कि इस प्रशिक्षण का मकसद यह होता है कि कर्मचारियों को यह पता चले कि बुलेट ट्रेन बहुत तेज रफ्तार से भागती है और इसलिए उन्हें भी अपना काम गंभीरता से और तेजी से करने की जरूरत है। हालाँकि जापानी मिडिया के अनुसार कुछ कर्मचारियों के लिए यह एक दिल दहलाने वाला अनुभव भी होता है। 

ख़बरें और भी 

इस वजह से आते है भूकंप, यह देश हैं सबसे ज्यादा पीड़ित

जानिए, इस मशीनी युग में किस देश के पास कितने रोबोट कर्मचारी

एशियाई खेल 2018: भारतीय महिला ने कबड्डी में किया जीत से आगाज़

?