राष्ट्रीय जिम्नास्टिक दिवस: जानिए किस तरह हुई थी 'जिम्नास्टिक' की शुरुआत

जिम्नास्टिक से जुड़े लोगों का शरीर नियमित रूप से बेहद ही मजबूत होता है, इतना ही नहीं एक जिम्नास्ट का शरीर बहुत ही लचीला होता है, कुछ देश में जिम्नास्टिक्स पाठ्यक्रम के एक भाग के रूप में स्कूल में सिखाया जाता है। जिम्नास्टिक्स शक्ति, लचीलापन, संतुलन और नियंत्रण पर आधारित खेल से जुड़ा हुआ होता है। जिम्नास्टिक खेल FIG द्वारा शासित हैं। प्रत्येक देश FIG से संबद्ध अपनी राष्ट्रीय शासी निकाय है। साथ ही साथ एक प्रतियोगी के रूप में कलात्मक जिम्नास्टिक्स सबसे अच्छा व्यायाम खेल माना जाता है। जिम्नास्टिक्स केवल पुरुष ही नहीं बल्कि महिलाओं को भी सिखाया जाता है।

इतिहास: जोहान फ्रेडरिक (1759-1839) और फ्रेडरिक लुडविग जॉन (1778-1852) - को आज भी आधुनिक जिम्नास्टिक्स माना जाता है, इन्होने इस खेल के लिए पुरुषों और युवाओं को जागरूक किया था, जिसके बाद से ही कई लोगों ने इसमें अपनी रूचि दिखाना शुरू कर दी। जहां यह भी कहा जाता है कि डॉन फ्रांसिस्को अमरोस व ओनदीअनओ, मरक़ुस डी सेलीनो ने इस खेल में सबसे पहले भाग लिया था, जी हां वह दोनों ही  एक स्पेनिश कर्नल और फ्रांस में शिक्षाप्रद व्यायाम शुरू करने वाले पहले व्यक्ति थे। हलाकि कुछ समय के उपरांत यानी  19 फ़रवरी 1770 को हुआ और पेरिस में और 8 अगस्त 1848 को दोनों का निधन हो गया था। जिसके कुछ समय बाद ही अंतर्राष्ट्रीय जिम्नास्टिक्स फेडरेशन (एफ आई जी) 1881 में लीग में स्थापित किया गया था। उन्नीसवीं सदी के अंत तक, पुरुषों की जिम्नास्टिक्स प्रतियोगिता 1896 में पहली "आधुनिक" ओलंपिक खेलों में शामिल होने के लिए लोगों की रूचि और भी ज्यादा बढ़ने लगी। तब से 1950 के दशक तक, राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय प्रतियोगिताओं दोनों शीर्ष के अंतर्गत एकत्र हुए और लोगों ने इस खेल में कई तरह से अपनी दिलचस्पी दिखाई।

आर्टिस्टिक जिम्नास्टिक्स: इस बारें में बहुत ही कम लोगों को पता होगा कि कलात्मक जिम्नास्टिक्स आमतौर पर पुरुष और महिला जिम्नास्टिक्स को दो अलग अलग भागों में बांटा जा चुका है। इतना ही नहीं पुरुष 6 तरह की प्रतिस्पर्धा में भाग ले सकते हैं, जिनमे से कुछ इस तरह हैं, ग्राउंड फ्लोर  एक्सरसाइज, पोल हॉर्स, स्टीलl रिंग्स, वॉल्ट, पैरेलल बार्स एंड हाई बार. जबकि महिलाएं केवल 4 प्रतिस्पर्धा में ही भाग लें सकती है, जिनमे से कुछ इस तरह है वॉल्ट, उनवेन बार्स, बैलेंस बीम एंड ग्राउंड फ्लोर एक्सरसाइजेज। आगे जानकारी के लिए बता दें कि वर्ष 2006 में FIG ने एक नई अंक प्रणाली, कलात्मक जिम्नास्टिक्स के लिए शुरू की जिसमे 10 अंकों के अंदर स्कोर करना होता है। 

IPL में धोनी की कमाई जान आपके होश उड़ जाएंगे, विराट-रोहित भी नहीं कर पाए बराबरी

IPL 2022: आकाश चोपड़ा का बड़ा बयान, कहा- "KKR खुद कप्तान को रिटेन नहीं करेगी"

जल्द ही लखनऊ वापसी करेगा टेस्ट क्रिकेट, भारत-न्यूज़ीलैंड मैच की करेगा मेजबानी

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -