मनमोहन का सफल नहीं हो सका था प्रयास

नई दिल्ली :  कांग्रेस के वरिष्ठ नेता डाॅ. मनमोहन सिंह ने भले ही प्रधानमंत्री के रूप में अपना कार्यकाल पूरा किया हो लेकिन उन्होंने कांग्रेस में हमेशा ही नंबर वन बनने का प्रयास किया लेकिन उनका यह प्रयास सफल नहीं हो सका। यह खुलासा मनमोहन सिंह के मीडिया सलाहकार संजय बारू ने किया है।

उन्होंने बताया कि तत्कालीन प्रधानमंत्री नरसिम्हा राव ने प्रधानमंत्री बनने के बाद ही अपने आपको इतना मजबूत कर लिया था, बावजूद इसके सोनिया गांधी का वर्चस्व कांग्रेस में बरकरार रहा। इसी तरह मनमोहन सिंह ने भी प्रधानमंत्री बनने के बाद कांग्रेस में नंबर वन आने की कोशिश की थी, बावजूद इसके वे नंबर वन नहीं बन सके, क्योंकि उनकी इस इच्छा को कांग्रेस ने दरकिनार कर दिया था।

बारू ने कांग्रेस और सोनिया को लेकर अन्य कई अनछुई बातें भी बताई है। उन्होंने बताया कि मनमोहन सिंह ने तीन बार त्यागपत्र दे दिया था लेकिन उनका त्यागपत्र इसलिये स्वीकार नहीं किया जा सका क्योंकि सोनिया गांधी को यह नामंजूर था कि मनमोहन सिंह इस तरह का कोई कदम उठाये।

जब मनमोहन सिंह का विमान क्रैश होते-होते बचा था !

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -