नेपाल का समर्थन कर ट्रोलर्स के निशाने पर आईं मनीषा

भारत और नेपाल के बीच लिंपियाधुरा, लिपुलेख और कालापानी को लेकर विवाद बढ़ता ही चला जा रहा है. ऐसे में नेपाल ने एक नया नक्‍शा जारी करके इनमें से दो क्षेत्रों को अपने नक्‍शे में दिखा दिया. वहीं नेपाली मूल की बॉलीवुड एक्‍ट्रेस मनीषा कोइराला ने नेपाल सरकार के इस कदम का समर्थन करते हुए एक ट्वीट कर दिया. लेकिन उनका समर्थन लोगों को पसंद नहीं आया और लोगों ने उनके ट्वीट पर जमकर रिएक्शन दिए. जी दरअसल मनीषा ने अपने ट्वीट में नेपाली सरकार को धन्यवाद दिया था साथ ही भारत, नेपाल और चीन का जिक्र करते हुए कहा था कि वह 'सभी तीन महान देशों' के बीच शांतिपूर्ण और सम्मानजनक बातचीत की उम्मीद करती हैं.

 

वहीं इसके बाद मनीषा से असहमत लोगों ने कहा कि ''नेपाल को चीन से सतर्क रहना चाहिए, वरना नेपाल का भी हाल तिब्‍बत जैसा न हो जाए.'' वहीं एक ट्विटर यूजर ने लिखा है, 'आप अपने जगह सही हो. हम ही उदार ,और महान बनने निकल जाते हैं. हम भारतीय भी अब आपकी तरह सोचेंगे.' इसी के साथ एक दूसरे शख्‍स ने ट्वीट किया, 'नेपाल हमेशा से भारत विरोधी रहा है उसकी नज़रें हमेशा भारत की भूमि पर रही हैं. लिपुलेख जैसे भारत के अभिन्न अंग पे जबरिया दावा नेपाल की तुच्‍छ मानसिकता को दर्शाता है.'

 

वहीं एक शख्‍स ने अंग्रेजी में ट्वीट करते हुए लिखा है, 'नेपाल को नया दोस्‍त मुबारक हो. लेकिन वियतनाम का हश्र न भूल जाना. कभी वे दोस्‍त थे लेकिन उनके साथ धोखा हुआ. नेपाल के साथ भी वैसा ही होना चाहिए. पहले माउंट एवरेस्‍ट जाएगा, उसके बाद कुछ और क्षेत्र भी. तब अहसासस होगा. भारत को नेपाल को भूलकर उसे तरजीह देनी बंद कर देना चाहिए.' इस तरह मनीषा कई लोगों के निशाने पर आ चुकीं हैं.

शर्लिन से लेकर तनुश्री दत्ता तक, यहाँ जानिए बॉलीवुड के टॉप 5 विवाद

सिर्फ साउथ ही नहीं बल्कि बॉलीवुड में भी राज करते है, इन 9 धांसू फिल्मों के निर्देशक

ओटीटी प्लेटफॉर्म पर दिशा पटानी की मलंग रिलीज़ दर्शकों से सराहना की एक नई लहर लेकर आई है.

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -