राज्यपाल को लोकतांत्रिक व्यवस्था का सम्मान करना चाहिए: ममता बनर्जी

हाल ही में कल कर्नाटक विधानसभा चुनावों के परिणाम घोषित हुए है, जिसके बाद यह चुनाव क्रिकेट के किसी रोमांचक मैच जितना रोमांचक होता हुआ दिखाई दे रहा है. यहाँ एक और कांग्रेस और जेडीएस मिलकर सरकार बनाने की जुगाड़ में लगे हुए है, वहीं बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह भी किसी तरह की तिकड़म भिड़ा कर सरकार बनाने के लिए कोशिश में लगे हुए. इस बीच इस चुनाव को लेकर पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने राज्यपाल को नसीहत देते हुए कहा कि उन्हें लोकतान्त्रिक मर्यादाओं का पालन करना चाहिए. 

ममता बनर्जी ने इस बारे में अपने बयान में कहा कि जब मणिपुर और गोवा में सबसे बड़ी पार्टी बनकर उभरने के बाद भी राज्यपाल से उन्हें न्यौता नहीं मिलता और अब जब संविधान के दायरे में रहकर कांग्रेस जेडीएस सरकार बनाना चाहते तो इस ओर राज्यपाल को लोकतंत्र का पालन कर दोनों को सरकार बनाने के लिए बुलाना चाहिए.

इस बाद ही अपने बयान में उन्होंने आगे कहा , 'लेकिन मैं क्या महसूस करती हूं कि हमें लोकतंत्र पर गर्व है. लोकतांत्रिक परंपराओं को आगे बढ़ने दें. मैं सोचती हूं कि कांग्रेस और देवेगौड़ा की पार्टी पहले ही राज्यपाल से अनुरोध कर चुकी है कि वे मिलकर सरकार बनाना चाहते हैं. ऐसे में हमें लोकतांत्रिक व्यवस्था का सम्मान करना चाहिए.'

राजभवन में खेला जाएगा कर्नाटक का नाटक

कर्नाटक चुनाव : कांग्रेसी लिंगायत और जेडीएस के कुछ विधायक शामिल हो सकते है बीजेपी में

कर्नाटक में राजनीतिक घटनाक्रम तेज ,कांग्रेस-जेडीएस की बैठक

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -