'मैं ऐसे भारत में नहीं रहना चाहती..', माँ काली पर बयान देकर घिरी महुआ ने अब कही ये बात

कोलकाता: तृणमूल कांग्रेस (TMC) की लोकसभा सांसद महुआ मोइत्रा द्वारा देवी काली पर दिए गए बयान को लेकर बखेड़ा खड़ा हो गया हैं। उन पर FIR भी दर्ज हो चुकी है। देश भर में उनका विरोध हो रहा है। उनके इस बयान से उनकी TMC भी पल्ला झाड़ चुकी है। हालांकि, उनके खिलाफ पार्टी ने किसी तरह की कार्रवाई नहीं की है।

अब महुआ मोइत्रा ने कहा है कि, 'मैं ऐसे भारत में नहीं रहना चाहती, जहाँ केवल भाजपा का पितृसत्तात्मक ब्राह्मणवादी दृष्टिकोण हावी रहेगा और बाकी लोग धर्म के ईर्द-गिर्द घूमते रहेंगे। मैं मरते दम तक अपने बयान का बचाव करती रहूँगी। तुम जितना चाहे FIR दर्ज करवा लो, मैं हर बार इसका अदालत में सामना करूँगी।' TMC  सांसद ने एक इंटरव्यू में कहा कि वह भाजपा को उन्हें गलत साबित करने की चुनौती देती हैं। बंगाल में जहाँ उन्होंने केस दर्ज करवाया है, वहाँ से 5 किमी के अंदर एक काली मंदिर है, जहाँ देवी की पूजा की जाती है। इसके साथ ही महुआ मोइत्रा ने उज्जैन के काल भैरव मंदिर और असम के कामाख्या मंदिर का हवाला देते हुए दोनों राज्यों की भाजपा सरकारों को उनके विरोध में शपथपत्र दायर करने की चुनौती दी है। बता दें कि मोइत्रा के खिलाफ एक केस भोपाल में भी दर्ज किया गया है।

इस बयान को लेकर भाजपा नेता शहजाद पूनावाला ने TMC पर हमला बोलते हुए सवाल किया है कि यदि TMC वाकई में महुआ मोइत्रा के बयान की निंदा करती है, तो उन पर एक्शन कब लेगी ? वह आदतन अपराधी है। वह पहले भी हिंदू देवी-देवताओं का तिरस्कार कर चुकी हैं। उन्होंने शिवलिंग और चोटीवाला राक्षस जैसा बयान देकर मजाक बनाया था।

गुजरात विधानसभा चुनाव: कांग्रेस ने 37 पर्यवेक्षकों की नियुक्ति की

ख़बरों में छाया RCP सिंह का इस्तीफा और PM मोदी का ट्वीट, जानिए क्या है खास?

जम्मू कश्मीर के पूर्व CM फ़ारूक़ अब्दुल्ला को 'तिरंगे' से चिढ़ क्यों ?

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -