कैबिनेट मीटिंग में बिगड़ी मंत्री जयंत पाटिल की तबियत, हुए अस्पताल में भर्ती

मुंबई: महाराष्ट्र सरकार की कैबिनेट मीटिंग में बीते बुधवार को राज्य के जल संसाधन मंत्री जयंत पाटिल की तबीयत अचानक ही बिगड़ गई। वहीं इसके बाद उन्हें मुंबई के ब्रीच कैंडी अस्पताल में भर्ती कराया गया। आपको बता दें कि जयंत पाटिल राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (NCP) के प्रदेश अध्यक्ष भी हैं और एक दिन पहले ही बाढ़ प्रभावित जिलों का दौरा कर लौटे थे। हाल ही में महाराष्ट्र के स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे ने कहा कि, 'जयंत पाटिल फिलहाल डॉक्टरों की निगरानी में है और इमरजेंसी वॉर्ड में उनके टेस्ट किए जा रहे हैं।'

इसी के साथ उन्होंने कहा, 'उनकी सीटी स्कैन और 2डी इको रिपोर्ट पेंडिंग है। जरूरत पड़ी तो कल सुबह पाटिल की एंजियोग्राफी की जाएगी।' ऐसा भी बताया जा रहा है कि मीटिंग के दौरान ही पाटिल को बेचैनी हुई और वे बैठक बीच में ही छोड़ कर बाहर निकल आए। वहीं इसके बाद तबीयत ज्यादा बिगड़ी तो उनके सहयोगी उन्हें अस्पताल लेकर पहुंचे। इस समय ब्रीच कैंडी अस्पताल में जयंत पाटिल के साथ उनके बेटे और परिवार के कुछ अन्य सदस्य भी पहुंच गए। खबरों के अनुसार जयंत पाटिल के साथ इस दौरान चार अन्य मंत्री भी मौजूद रहे और अस्पताल पहुंचने के बाद उन्हें तुरंत इमरजेंसी वॉर्ड ले जाया गया जहां उनके सभी जरूरी टेस्ट किए गए।

अब तक डॉक्टर्स की तरफ से कोई भी मेडिकल बुलेटिन जारी नहीं किया गया है। हालाँकि महाराष्ट्र के स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे का कहना है कि जयंत पाटिल अभी डॉक्टरों की निगरानी में हैं और स्थिति नियंत्रण में बताई जा रही है। जैसे ही जयंत पाटिल हॉस्पिटल में एडमिट हुए उसी के कुछ घंटे बाद उन्हें ट्विटर पर मराठी में लिखा गया, ‘आप सभी के आशीर्वाद से, मेरा स्वास्थ्य बहुत अच्छा है। चिंता करने की कोई जरूरत नहीं है। मैं नियमित जांच के लिए अस्पताल गया था। डॉक्टर ने सलाह दी है मुझे आराम करने के लिए। किसी भी अफवाह पर विश्वास न करें। मैं जल्द ही आपकी सेवा में वापस आऊंगा। धन्यवाद!’

अंतर्राष्ट्रीय बाघ दिवस पर पीएम मोदी ने वन्यजीव प्रशंसकों को दी बधाई

अगले महीने Facebook और Twitter में होने जा रहा हैं ये बड़ा बदलाव, आपको मिलेगा लाभ

MP: इन मांगों को लेकर आज अधिकारी-कर्मचारी सामूहिक अवकाश पर

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -