चुनाव में हार के बाद मप्र कांग्रेस में हाहाकार, सिंधिया को प्रदेश अध्यक्ष बनाने की मांग

चुनाव में हार के बाद मप्र कांग्रेस में हाहाकार, सिंधिया को प्रदेश अध्यक्ष बनाने की मांग

भोपाल: 2019 लोकसभा चुनाव नमे शर्मनाक पराजय के बाद मध्य प्रदेश कांग्रेस में बदलाव की चर्चा चरम पर है. पार्टी में शिकस्त को लेकर चिंतन और बैठकों का सिलसिला चल रहा है. शनिवार को मध्य प्रदेश कोर कमेटी की बैठक ली गई. बैठक में सूबे के सीएम कमलनाथ, पूर्व सीएम और वरिष्ठ कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह और ज्योतिरादित्य सिंधिया उपस्थित रहे. जिस समय पार्टी की बैठक चल रही थी उस दौरान ज्योतिरादित्य सिंधिया के समर्थक सीएम आवास के बाहर नारे लगा रहे थे. 

नारेबाजी कर रहे समर्थकों की मांग है कि सिंधिया को प्रदेश कांग्रेस का अध्यक्ष बनाया जाए. बैठक के बाद ज्योतिरादित्य सिंधिया देर रात सूबे के पूर्व सीएम और भाजपा नेता शिवराज सिंह चौहान के आवास पहुंचे. सिंधिया शिवराज के पिता प्रेम सिंह चौहान को श्रद्धांजलि अर्पित करने पहुंचे थे. उल्लेखनीय है कि शिवराज सिंह चौहान के पिता प्रेम सिंह चौहान का हाल ही में देहांत हो गया था. वे काफी दिनों से बीमार चल रहे थे. वह 85 साल के थे.

इससे पहले मध्य प्रदेश कांग्रेस इकाई के प्रमुख और सीएम कमलनाथ ने 8 जून को कोर कमेटी की बैठक बुलाई थी. जिसके बाद दोनों ही नेता कमलनाथ के घर पर बैठक में शामिल होने के लिए पहुंचे थे. लोकसभा चुनाव में मिली करारी शिकस्त के बाद से कांग्रेस के नेता और कार्यकर्ता बेहद निराश हैं.

अमित शाह ने बुलाई पार्टी के शीर्ष नेताओं की बैठक, भाजपा अध्यक्ष के नाम पर हो सकती है चर्चा

ठाकरे चाहे 10 बार अयोध्या का दौरा कर लें, राम मंदिर पर कुछ नहीं होगा- रामदास अठावले

नवनियुक्त विदेश मंत्री एस जयशंकर ने कहा, सुषमा के पदचिन्हों पर चलना गर्व की बात