कठुआ केस: सामाजिक कार्यकर्ता की पुलिस ने की पिटाई

नई दिल्ली : कठुआ गैंगरेप में पुलिस द्वारा सामाजिक कार्यकर्ता तालिब हुसैन को यातनाए दी जा रही है. जिसके कारण सुप्रीम कोर्ट में जल्द से जल्द इस मामले में सुनवाई को लेकर याचिका दायर की गई है. याचिका दायर करने वाले ने इस घटना पर आश्चर्य जताते हुए कहा कि लोकतंत्र में इस तरह की घटनाएं सहन नहीं होगी.

मुजफ्फरपुर रेप कांड मामले में सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई आज

बता दें कि इस मामले में वरिष्ठ वकील द्वारा  यह जानकारी दी गई कि पीड़िता की तरफ से आवाज उठाने वाले सामाजिक कार्यकर्ता तालिब हुसैन की मामले में जाँच कर रही पुलिस ने स्टेशन में पुलिस रिमांड के दौरान उसकी बेरहमी से पिटाई की. आगे इस वकील ने बताया कि इस पिटाई के कारण उसका सर फट गया है. साथ ही उसे काफी गंभीर चोटे आई है. बाद में उसे अस्पताल ले जाया गया. 

अन्धविश्वास: स्वस्थ बच्चे की चाह में कर दिया अपनी ही बेटी का क़त्ल

गौरतलब है कि कठुआ बलात्कार और हत्या मामले मे तालिब हुसैन ने बलात्कारियों के खिलाफ आंदोलन का नेतृत्व किया था. जिसके बाद इस आंदोलन के बढ़ने के बाद तालिब ने राष्ट्रीय स्तर पर अपनी पहचान बनाई थी. लेकिन बाद में एक महिला द्वारा शिकायत करने पर इस सामाजिक कार्यकर्ता तालिब हुसैन को पुलिस ने अपनी हिरासत में ले लिया था. जिसके बाद से वो अब तक रिमांड पर ही है.

खबरें और भी...

सास और पति से परेशान IRS अफसर ने लगाई फांसी

देवरिया रेप केस : योगी ने 12 घंटे के भीतर पूरे प्रदेश के आश्रय गृहों की रिपोर्ट मांगी

BREAKING: मुजफ्फरपुर मामला: पुलिस को शेल्टर होम से गायब एक महिला मिली

 

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -