आईएसआई करती है लश्कर की वित्तीय मदद : निकम

Feb 10 2016 08:36 AM
आईएसआई करती है लश्कर की वित्तीय मदद : निकम

आईएसआई अपने नापाक मंसूबो को पूरा करने के लिए लश्कर कि आर्थिक रूप से मदद करती है, जिससे भारत और पुरे विश्व में आतंक को फैलाया जा सके हेडली की गवाही में यह साबित हो चूका है की भारत और पाकिस्तान दोनों ही प्रायोजित आतंकवाद के शिकार है, भारत द्वारा दिए गए लगातार सबूतो के आधार पर अब फैसला पाकिस्तान को लेना है की वह अंतराष्ट्रीय समुद्दय के सामने अपने देश को किस प्रकार बेगुनाह साबित कर पाता है कि आतंकवाद को बढ़ाने में उसका आतंकियों से कोई सम्बन्ध नहीं है.
  
सरकारी वकील उज्जवल निकम ने कहा कि हेडली ने जो गवाही दी है वो ये साबित करती है कि आईएसआई लश्कर, हिजबुल मुजाहिद्दीन और दूसरे आतंकी संगठनों को वित्तीय सहायता प्रदान कर आर्थिक तौर पर मदद करती है. हेडली की गवाही में उसने यह स्वीकार किया था कि उसके आइएसआई से गहरे सम्बन्ध थे.

हेडली कि गवाही के अनुसार वह आईएसआई के ब्रिगेडियर रियाज, कर्नल शाह, लेफ्टिनेंट जनरल हम्जा और मेजर समीर अली से मिला था हेडली के अनुसार उसने सुना हुआ था कि ब्रिगेडियर रिआज लश्कर का हैंडलर था और आतंक को फैलाने में उसकी भी भूमिका थी.