'मेरे खिलाफ जांच CBI को सौंपी जाए..', बॉम्बे हाई कोर्ट में समीर वानखेड़े की अर्जी

मुंबई: नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (NCB) के जोनल डायरेक्टर समीर वानखेड़े ने बॉम्बे उच्च न्यायालय में अर्जी दाखिल की है. उन्होंने अपनी याचिका में कहा है कि यदि उनके खिलाफ जांच होती है तो यह केंद्रीय जांच ब्यूरो (CBI) को सौंपी जाए. बता दें कि समीर वानखेड़े की यह याचिका मुंबई पुलिस द्वारा की जा रही जांच के खिलाफ है. इसके साथ ही वानखेड़े ने अंतरिम सुरक्षा की भी मांग की है.

बता दें कि आर्यन खान ड्रग मामले की जांच कर रहे मुंबई NCB के अफसर समीर वानखेड़े अब खुद दोहरी जांच के भंवर में फंसते नज़र आ रहे हैं। उनके खिलाफ एक जांच तो मुंबई पुलिस ने शुरू कर दी है, वहीं, दूसरी उन्हीं के विभाग NCB के सतर्कता विभाग ने शुरू की है। समीर वानखेड़े के खिलाफ ये दोनों जांचें आर्यन खान केस में स्वतंत्र गवाह बनाए गए प्रभाकर सैल का एक हलफनामा सामने आने के बाद शुरू हुई हैं। 

बता दें कि प्रभाकर सैल ने रविवार को अपना एक हलफनामा इंटरनेट मीडिया पर सार्वजनिक करते हुए कहा था कि आर्यन खान मामले में NCB ने उनसे पंच के रूप में 10 सादे कागजों पर हस्ताक्षर करवाए थे। सैल ने यह आरोप भी लगाया था कि उसने इसी मामले के एक और पंच किरण गोसावी को सैम डिसूजा नामक अपने दोस्त से 25 करोड़ की वसूली करने की बात करते हुए सुना था।

नवंबर में राष्ट्रीय उद्यानों तक मुफ्त पहुंच प्रदान करेगा दक्षिण अफ्रीका

1 नवंबर से सिमिलिपाल नेशनल पार्क जा सकेंगे पर्यटक

आम आदमी को बड़ा झटका! 120 के पार हुआ पेट्रोल का भाव

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -