​हरियाणा : राज्य में शराब की धांधली को लेकर हुआ चौकाने वाला खुलासा

कोरोना संक्रमण के बीच हरियाणा में हो रहे शराब घोटाले में कई अधिकारी और सफेदपोश जांच के दायरे में आ सकते हैं. शुक्रवार देर रात हरियाणा, चंडीगढ़ और मोहाली पुलिस ने शराब घोटाले के किंगपिन भूपेंद्र सिंह के चंडीगढ़ के सेक्टर-50 के ठिकाने पर छापा मारा. इस दौरान भूपेंद्र सिंह फरार हो गया. पुलिस को मौके से 97 लाख कैश, दो पिस्टल एक रेंज रोवर और चार मोबाइल फोन मिले. 

यूपी लौटे प्रवासी मजदूरों के लिए 90 लाख रोज़गार, योजना की क्रियान्वन में जुटी योगी सरकार

आपकी जानकारी के लिए बता दे कि मोबाइल फोन से कई वीआईपी नंबर मिले हैं. प्राथमिक जांच में मोबाइल फोन के माध्यम से कई राज खुलने की बातें कही जा रही हैं. वहीं, शनिवार देर शाम भूपेंद्र सिंह ने सोनीपत के खरखौदा थाने में सरेंडर कर दिया. पुलिस आरोपी से पूछताछ कर रही है. पुलिस का कहना है कि पूछताछ के बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी. मामले की जांच एसआईटी कर रही है. भूपेंद्र पर शराब तस्करी के एक दर्जन से अधिक मामले दर्ज हैं.

महाराष्ट्र से रिक्शा लेकर पहुंचे उत्तराखंड, चारों लोग निकले कोरोना पॉजिटिव
 
इसके अलावा हरियाणा के गृहमंत्री अनिल विज ने पत्रकारों के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंस में बताया कि मौके से बरामद टेलीफोन बोलेगा और राज खोलेगा. विज ने जो खुलासा किया है वह चौंकाने वाला है. उन्होंने कहा कि आरोपी का हरियाणा सचिवालय में बेरोकटोक आना जाना था. वह यहां पर कई अधिकारियों के पास बैठा पाया जाता था. मामले में होने वली जांच दूध का दूध और पानी का पानी करेगी. 

कोरोना के खिलाफ जंग में भारत की बड़ी सफलता, अब X-Ray मशीन करेगी मरीज की पहचान

कोरोना संकट के बीच दिल्ली में बारिश, तेज हवाओं के साथ बरसा पानी

प्रत्येक कोरोना मरीज को इलाज के लिए 3 लाख रुपए दे रही सरकार ?

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -