क्या फैंस के दिलों में राज करने वाली दिव्या भारती की मौत से कभी उठेगा पर्दा

Feb 25 2021 05:04 AM
क्या फैंस के दिलों में राज करने वाली दिव्या भारती की मौत से कभी उठेगा पर्दा

बॉलीवुड की खूबसूरत एक्ट्रेस में शुमार दिव्या भारती बॉलीवुड की वो एक्ट्रेस रही जिन्हें सबसे सफल एक्ट्रेस में गिना जाता है. दिव्या ने समय से पहले ही इस दुनिया को छोड़ दिया. इतना ही नहीं बहुत ही कम समय में वो बॉलीवुड की टॉप एक्ट्रेस में शुमार हो गई थी. आपको बता दें, उन्होंने 19 साल की कम उम्र में ही बॉलीवुड में उन बुलंदियों को हासिल कर लिया था जो कई लोग जीवन भर नहीं कर पाते. आज हम बताने जा रहे हैं उनके बारे में कुछ खास बातें. 

सबसे पहले इसी के साथ आपको बता दें, कि दिव्या भारती का जन्म 25 फरवरी, 1974 को हुआ था. आज उनकी 45वीं जयंती है. दिव्या भारती ने 1990 में 16 साल की उम्र में तेलुगु फिल्म 'बोब्बिली राजा' से करियर शुरू किया था. ये फिल्म तेलुगु की अब तक सबसे बड़ी हिट फिल्मों में शामिल है. इसके बाद बॉलीवुड की भी कई बड़ी और हिट फिल्मों में काम किया. कहा जा सकता है कि उनकी वजह से ही बॉलीवुड की वो फिल्में हिट हुई. 

उन्होंने पहली हिंदी फिल्म 'विश्वात्मा' 1992 में की थी और उसके बाद उन्हें पीछे मुड़कर देखने की जरूरत नहीं पड़ी. दिलचस्प यह कि देव आनंद जैसे एवरग्रीन एक्टर भी उनके फैन थे. इसके बाद उन्हें एक से एक फिल्में मिलती ही गई. दिव्या भारती का जन्म मुंबई में हुआ था और उनके पिता एक इंश्योरेंस ऑफिसर थे. दिव्या को बॉलीवुड में आए सिर्फ दो ही साल हुए थे और उन्होंने कम समय में ही बहुत कुछ हासिल कर लिया था. तेलुगु फिल्मों में चिरंजीवी और मोहन बाबू जैसे सितारों के साथ नजर आने और बड़ी हिट देने के बाद वे वहां की सुपरस्टार बन गईं.

बता दें, दिव्या भारती ने सनी देओल के अपोजिट राजीव राय की 'विश्वात्मा' साइन की. फिल्म ने औसत बिजनेस किया लेकिन फिल्म का सॉन्ग 'सात समंदर' सुपरहिट रहा, इसमें दिव्या भारती थीं. इसके बाद उनकी 'दीवाना' और 'शोला और शबनम' बड़ी हिट फिल्में रहीं. इतना ही नहीं, साजिद नाडियाडवाला और दिव्या भारती ने 10 मई, 1992 को चोरी-छिपे शादी की थी. दरअसल को-स्टार के साथ लिंक अप की खबरों से परेशान दिव्या ने शादी का फैसला किया. इस शादी में दिव्या की दोस्त और हेयर ड्रेसर फ्रेंड संध्या मौजूद रही थी. ये शादी महज एक साल ही चली थी. 

लेकिन 5 अप्रैल, 1993 को वे एक हादसे का शिकार हो गईं, और अपने पांचवीं मंजिल पर स्थित अपने घर की बालकनी से नीचे गिर गईं. जिस वजह से उनकी मौत हो गई. किसी ने इसे हत्या कहा तो किसी ने आत्महत्या. लेकिन आज तक दिव्या की मौत केवल एक रहस्य ही है.

UNSC में गूंजे 'यजुर्वेद' के मंत्र, जलवायु परिवर्तन पर बहस के दौरान जावड़ेकर ने किया शांति पाठ

पिकनिक मनाने गए 18 वर्षीय युवक की पीट-पीटकर हत्या, 3 आरोपी गिरफ्तार, 5 फरार

''लाल टोपी देखकर एक बच्चे ने कहा था- 'मम्मी देखो गुंडा'...'', सपा पर सीएम योगी ने कसा तंज