विलन का किरदार निभाकर फिल्म इंडस्ट्रीज में अपनी छाप छोड़ गए सदाशिव अमरापुरकर

विलन का किरदार निभाकर फिल्म इंडस्ट्रीज में अपनी छाप छोड़ गए सदाशिव अमरापुरकर
Share:

हिंदी मूवी इंडस्ट्री में जब भी सुपर विलेन की बात होती है तो 'मोगैम्बो', 'गब्बर' के साथ-साथ 'सड़क' मूवी के 'महारानी' किरदार की भी याद आ ही जाती है। आज उसी किरदार को निभाने वाले महान कलाकार सदाशिव अमरापुरकर का बर्थडे है। तो चलिए आज उनके जन्मदिन पार जानते है उनके ही बारें में कुछ दिलचस्प बातें।।।। 

1. सदाशिव अमरापुरकर का जन्म 11 मई 1950 को महाराष्ट्र के अहमदनगर इलाके में हुआ था।

2. महाराष्ट्रियन ब्राह्मण परिवार में पैदा हुए सदाशिव को उनके करीबी लोग प्यार से 'तात्या' कहकर पुकारते थे।

3. बचपन से ही सदाशिव सामाजिक कार्यों में भाग लेना बहुत ही पसंद था और असहाय लोगों की सहायता किया करते थे।

4. मूवीज में आने से पहले सदाशिव ने अभिनय की शुरुआत मराठी नाटकों से की थी और लगभग 50 नाटकों के उपरांत फिल्मों में कदम रखा।

5. सदाशिव की पहली फिल्म थी '22 जून 1897 यह एक मराठी मूवी थी और इस मूवी में उन्होंने बाल गंगाधर तिलक का रोल निभाया था।

6. सदाशिव अमरापुरकर की पहली हिंदी मूवी थी 'अर्धसत्य'। इस फिल्म के लिए उन्‍हें फिल्मफेयर अवार्ड से सम्मानित किया गया। उन्हे मूवी 'सड़क' के लिए भी फिल्मफेयर अवार्ड से नवाजा गया।

7. 'अर्धसत्य' के उपरांत सदाशिव अमरापुरकर ने 1987 में 'पुराना मंदिर', 'नासूर', 'मुद्दत', 'जवानी' और 'खामोश' जैसी मूवीज में काम किया।

8. सदाशिव अमरापुरकर एक्टर धर्मेन्द्र की फिल्म 'हुकूमत' के उपरांत से अधिकतर विलेन के किरदार में ही दिखाई दिए। मूवी 'मोहरा', 'खतरों के खिलाडी', 'कालचक्र', 'ईश्वर', 'एलान ए जंग', 'फरिश्ते', 'वीरू दादा' और 'बेगुनाह' में विलेन के ही अवतार में सदाशिव नज़र आए।

9. 90 के दशक में सदाशिव ने सह कलाकार के रूप में थोड़ा कॉमेडी की तरफ भी रुख किया, उन्होंने 'आंखें', 'इश्क', 'कुली नंबर 1', 'गुप्त : द हिडेन ट्रुथ', 'जय हिन्द', 'मास्टर', 'हम साथ-साथ हैं', जैसी फिल्में की।

10. 1996 की मूवी 'छोटे सरकार' में सदाशिव ने डॉक्टर खन्ना का रोलअभिनय अदा किया।

11. सदाशिव की आखिरी हिंदी मूवी थी दिबाकर बनर्जी की 'बॉम्बे टॉकीज' जिसमें उन्होंने कैमियो अभिनय किया था।

12. सदाशिव अमरापुरकर का फेफड़ों में संक्रमण के चलते 64 वर्ष की उम्र में 3 नवंबर 2014 को देहांत हो गया।

झारखंड: मछली पकड़ने डैम गए 3 बच्चों की डूबने से मौत

बिहार में दो युवकों की गला रेतकर हत्या, नहर किनारे मिली लाश

दिल्ली हाई कोर्ट का आदेश- दवाओं की कालाबाज़ारी रोकने के लिए सख्त कदम उठाए सरकार

रिलेटेड टॉपिक्स
- Sponsored Advert -
मध्य प्रदेश जनसम्पर्क न्यूज़ फीड  

हिंदी न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_News.xml  

इंग्लिश न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_EngNews.xml

फोटो -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_Photo.xml

- Sponsored Advert -