झगड़े के बीच पत्नी ने उठाया चाकू और दे दी पति को मौत

Jun 21 2021 09:40 AM
झगड़े के बीच पत्नी ने उठाया चाकू और दे दी पति को मौत

गुरुग्राम: दिल्ली से सटे गुरुग्राम से एक बड़ी खबर आई है. जी दरअसल यहाँ 39 साल के इंजीनियर की चाकू मारकर हत्या कर दी गई है. इस मामले में मिली जानकारी के तहत हत्या का आरोप इंजीनियर की पत्नी पर लगा है. कहा जा रहा है कि जिस वक्त महिला ने अपने पति की हत्या की, उस समय उसके दोनों बच्चे भी घर में मौजूद थे और दोनों ने सब कुछ देख लिया था. उससे दोनों डरे हुए थे. बताया जा रहा है गुरुग्राम के अपने भाई की मौत के बाद सचिन की दोनों बहनों रेशमा और शिल्पी ने न्याय की गुहार लगाई है.

इस मामले में दोनों बहनों ने गुंजन की तत्काल गिरफ्तारी हो. इस मामले में उन्होंने कहा कि ''गुंजन ने जो किया, उसके लिए दंडित किया जाए.'' इसी के साथ ही इस पूरे मामले पर पड़ोसियों का कहना है कि ''सचिन सौम्य स्वभाव के व्यक्ति थे. वे जब भी घर आते थे तो दोनों पति-पत्नी में अक्सर झगड़ा होता था. इस दौरान गुंजन के चिल्लाने की तो खूब आवाज आती थी लेकिन सचिन की आवाज कभी नहीं सुनी.''

वही दूसरी तरफ जांच करने वाले अधिकारी ने बताया कि, ''शहर की ज्योति पार्क कॉलोनी से पति-पत्नी में झगड़े की सूचना मिली थी. पुलिस मौके पर पहुंची तो पता चला कि पीड़ित को अस्पताल ले जाया जा चुका है. इसके बाद पुलिस अस्पताल पहुंची तो वहां पीड़ित की मौत की सूचना मिली. इस मामले में मृतक सचिन के भाई नीरज ने अपनी भाभी गुंजन के खिलाफ मर्डर की शिकायत दर्ज करवाई है.'' इसके अलावा अधिकारी ने बताया कि शिकायत के मुताबिक सचिन इंजीनियर थे और अक्सर शुक्रवार को घर आते थे और रविवार को काम पर चले जाते थे. इस बीच जब वे घर पर होते थे तो उनकी पत्नी गुंजन उनसे लगातार झगड़ा करती थीं.

बीते रविवार को भी ऐसा ही हुआ. जब सचिन अपने घर थे तो दोनों बच्चों के सामने गुंजन ने फिर उनसे झगड़ा शुरू कर दिया. इसी बीच गुंजन ने रसोई घर में से चाकू निकाल लिया और सचिन पर हमला कर दिया. इस बीच किसी तरह यह जानकारी सचिन के भाई नीरज को लगी और वह मौके पर पहुंचे और अपने भाई को तुरंत अस्पताल लेकर गए लेकिन अधिक खून बह जाने की वजह से सचिन की मौत हो गई.

भारत में 22 और 23 जून को ग्रीन हाइड्रोजन पहल पर दो दिवसीय ब्रिक्स शिखर सम्मेलन का होगा आयोजन

आईसीयू से जनरल वार्ड में शिफ्ट हुई सैंड्रा थॉमस

लक्षद्वीप उच्च न्यायालय के अधिकार क्षेत्र को केरल से कर्नाटक स्थानांतरित करने का रखा जाएगा प्रस्ताव