अगस्त माह में GST संग्रह घटा, फिर भी कलेक्शन 94,000 करोड़ रुपए...

नई दिल्ली। देश में जबसे जीएसटी और नोटेबंदी के फैसले लागु किये गए थे तबसे इन मुद्दों पर काफी राजनीति हो रही है। इस मुद्दे को लेकर कांग्रेस कई विपक्षी पार्टियां बीजेपी को लगातार घेरने की कोशिश करते रहती है। और अब लगता है कि कांग्रेस को बीजेपी को घेरने के लिए एक और मौका मिल गया है क्योकि इस बार जीएसटी के तहत राजस्व में भरी गिरावट हुई है। 

मॉब लीचिंग की घटनाओं के लिए GST और बेरोजगारी जिम्मेदार : राहुल गाँधी

दरसअल  भारत के वित्त मंत्रालय के मुताबिक अगस्त माह में वस्तु एवं सेवा कर (जीएसटी) के तहत राजस्व संग्रह में भारी गिरावट एक साथ यह   93,960 करोड़ रुपए रहा। पिछले महीने जुलाई में यह संग्रह 96,483 करोड़ रुपए था। इस मामले में सरकार का कहना है कि जीएसटी संग्रह में इस गिरावट की मुख्य वजह उन वस्तुओं की बिक्री में आया विलंबन है जिस पर जीएसटी परिषद ने अपनी 21 जुलाई वाली बैठक में करों की दरों में कटौती की थी। गौरतलब है कि नई दरें 27 जुलाई से लागू की गई थी। 

दर्शकों के दिलों पर राज कर रही है 'गैंगस्टर दुल्हनिया'

इसके साथ ही वित्त मंत्रालय के एक बयान में यह भी कहा गया कि ऐसा पहले भी होता आया है कि अगस्त में, जुलाई की तुलना में कम कर संग्रह होता है। और पिछले आंकड़ों के अनुसार जुलाई में GST से  आने वाला राजस्व साल के कुल कर संग्रह का 8.2 फीसदी होता है तो वहीं अगस्त में यह 7.7 फीसदी रहता है। 

ख़बरें और भी 

फायदेमंद फैसले थे नोटेबंदी और GST, बैंकों में वापस आया 99.3 फीसदी पैसा : RBI

चोटी काटने के बाद एक और गैंग का मच रहा हड़कंप

खूंखार गैंगस्टर संतोष झा की भरी अदालत में गोली मरकर हत्या

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -