कोरोना की 'पांचवी लहर' से बुरी तरह जूझ रहा ये देश, हर दिन बढ़ती जा रही मरीजों की संख्या

पेरिस: फ्रांस में वैश्विक महामारी कोरोना वायरस की पांचवीं लहर शुरू हो चुकी है. देश के स्वास्थ्य मंत्री ओलिवर वेरन (Olivier Veran) ने इस संबंध में जानकारी देते हुए कहा कि इससे उन लोगों के लिए नई चिंता पैदा हो गई है, जिनकी उम्मीद थी कि महामारी खत्म हो रही है. स्थानीय टेलीविजन चैनल को दिए साक्षात्कार में मंत्री ने पुष्टि करते हुए कहा कि उनके देश में भी कई अन्य पड़ोसी मुल्कों की तरह महामारी की पांचवीं लहर शुरू हो चुकी है. उन्होंने कहा कि संक्रमण तेजी से बढ़ रहा है.

वेरन ने आगे कहा कि, ‘कई पड़ोसी देश पहले से ही कोरोना महामारी की पांचवीं लहर का सामना कर रहे हैं, हम फ्रांस में जिस चीज का अनुभव कर रहे हैं, वह स्पष्ट रूप से पांचवीं लहर की शुरुआत जैसा नज़र आ रहा है.’ फ्रांस के स्वास्थ्य मंत्रालय ने बुधवार को कोरोना के 11,883 नए केस दर्ज किए हैं. लगातार दूसरे दिन नए मामलों की तादाद 10,000 से ऊपर बनी हुई है. अक्टूबर मध्य के बाद से संक्रमण के मामलों में निरंतर बढ़ोतरी हो रही है. इससे पहले राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों ने भी कहा था कि देश में एक बार फिर कोरोना संक्रमण के मामलों में उछाल देखने को मिल सकता है.

बता दें कि इस सप्ताह की शुरुआत में राष्ट्रपति मैक्रों ने कहा था कि 65 वर्ष और इससे अधिक उम्र के लोगों को अधिक सावधानी बरतने की जरूरत है. इन्हें रेस्त्रां जाने, सांस्कृतिक कार्यक्रमों में हिस्सा लेने या ट्रेन पकड़ने से पहले कोरोना वैक्सीन की बूस्टर डोज लगाए जाने का प्रमाण दिखाना होगा. मैक्रों ने कहा कि, ’15 दिसंबर से आपको (65 साल से अधिक आयु के लोग) अपने हेल्थ पास की वैधता बढ़ाने के लिए बूस्टर डोज का सर्टिफिकेट दिखाना होगा.’ उन्होंने देश के नाम संबोधन में ये बात कही थी.

इंग्लैंड-न्यूज़ीलैंड में पहला सेमीफाइनल मुकाबला आज, क्या वर्ल्ड कप की हार का बदला ले पाएगी कीवी टीम ?

जापान के प्रधानमंत्री फुमियो किशिदा को संसद में फिर से बहुमत

इस्लामाबाद में बनने जा रहा पहला हिन्दू मंदिर, लंबे विवाद के बाद कोर्ट ने दी इजाजत

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -