फीफा 2018: यूरोप की टीम ले जाएगी इस बार कप

Jul 08 2018 11:43 AM
फीफा 2018: यूरोप की टीम ले जाएगी इस बार कप

रूस: इस बार फुटबॉल का वर्ल्डकप रूस में खेला जा रहा है. जिसमे अब तक के काफी बड़े उलटफेर देखने को मिले है. इतिहास गवाह है फीफा विश्व कप के 88 वर्षों के इतिहास में हर बार खिताब की जंग लैटिन अमेरिकी और यूरोपीय टीमों के बीच रही है. लेकिन अगर पिछले कुछ वर्षों के पन् ने पलट कर देखे तो में यूरोपीय देशों ने विश्व फुटबॉल पर अपने वर्चस्व की छाप छोड़ते हुए लैटिन अमेरिकी देशों की कलात्मक और आक्रामक फुटबॉल के वर्चस्व को सकते में डाल दिया है. आपको बता दें कि विश्व कप के इतिहास में यह पांचवां मौका है जब चारों यूरोपीय टीमों ने सेमीफाइनल में जगह बनाई है.

 

लैटिन अमेरिकी देशों की कमान ब्राजील, अर्जेंटीना और उरुग्वे के हाथों में रही है। यही तीनों टीमों विश्व कप में विजेता, उप-विजेता और सेमीफाइनलिस्ट रही हैं. हर बार लैटिन अमेरिकी टीमों के साथ यह दुर्भाग्य यूरोपीय देशों में दोहराया गया है. हालांकि इस बार लियोनेल मेसी, नेमार और लुइस सुआरेज के चलते यह माना जा रहा था कि ये तीनों देश विश्व कप में अपनी छाप छोड़ेंगे.

 

गौरतलब है कि साल 2002 से कोई भी लैटिन अमेरिकी देश विश्व कप नहीं जीत सका है. अंतिम बार यह खिताब ब्राजील ने जीता था.  आपको बता दें कि सेमीफाइनल के लिए चारों टीमें तैयार हो चुकी हैं.  बता दे कि 10 जुलाई को पहला सेमीफाइनल फ्रांस और बेल्जियम के बीच भारतीय समयानुसार रात साढ़े 11 बजे से खेला जाएगा. 11 जुलाई को दूसरा सेमीफाइनल इंग्लैंड और क्रोएशिया के बीच  रात साढ़े 11 बजे से शुरू होगा.

फाफ डु प्लेसिस ने फिर ICC पर सवाल दागे

द ग्रेट खली चाहते है युवा यह खास नशा करे

हैप्पी बर्थडे 'टाइगर' : 46 के हुए क्रिकेट के 'दादा' गांगुली, देखें वीडियो

 

?