अपने अनोखे अंदाज से फिरोज खान ने किया सबके दिलों पर राज

अपने अनोखे अंदाज से फिरोज खान ने किया सबके दिलों पर राज

अभिनेता, निर्देशक, प्रोड्यूसर, फैशन आइकन फिरोज खान का जन्म 24 सितंबर 1939 को अफगानिस्तान से विस्थापित होकर आए एक पठान परिवार में जन्म हुआ था। उनका परिवार गजनी का रहने वाला था। मां ईरानी थीं। उनकी आरम्भिक पढ़ाई बंगलुरु के बिशप कॉटन विद्यालय में हुई थी। फिरोज पांच भाई थे। संजय खान (टीपू सुल्तान फेम), अकबर खान (अकबर फेम), शाहरुख शाह अली खान तथा समीर खान। उनकी एक सिस्टर भी थी, दिलशाद बीवी। वो पढ़ाई पूर्ण कर मुंबई आ गए थे। प्रथम अवसर उन्हें 1960 में फिल्म दीदी में सेकंड लीड के रूप में मिला था।

वही शीघ्र ही उन्होंने एक इंग्लिश फिल्म 'टारजन गोज टु इंडिया' भी साइन कर ली। इसमें उनके अपोजिट सिमी ग्रेवाल थीं। 1962 पर आई ये मूवी ठंडी रही। इसमें फिरोज प्रिंस रघु कुमार बने थे। साथ ही डेब्यू के पांच वर्ष पश्चात् उन्हें पहली हिट फिल्म 'ऊंचे लोग' से नसीब हुई थी। इसमें वह राज कुमार तथा अशोक कुमार जैसे अभिनेता के साथ नजर आए थे।

1969 में आई फिल्म 'आदमी' तथा 'इंसान' के लिए उन्हें बेस्ट सपोर्टिंग अभिनेता का फिल्मफेयर अवॉर्ड मिला था। फिरोज खान को जल्द ही समझ आ गया कि फिल्मी किस्मत में प्रॉड्यूसर का किरदार अहम होता है। 1971 में उन्होंने फिल्में प्रॉड्यूस करना आरम्भ कर दिया। पहली फिल्म जो उन्होंने प्रोड्यूस की, वो थी 'अपराध'। इसमें जर्मनी में होने वाली कार रेसिंग के सीन दिखाए गए। फिल्म में उनके साथ मुमताज थीं। फिरोज खान और विनोद खन्ना अच्छे मित्र थे। फिल्म 'दयावान', 'कुर्बानी' और 'शंकी शंम्भू' में दोनों साथ नजर आए थे। इसी के साथ फिरोज खान ने अपने जीवन में कई उपलब्धिया हासिल की थी।

प्रियंका चोपड़ा की बहन ने उठाए सवाल, कहीं ये हैरान कर देने वाली बात

ड्रग्स कनेक्शन में जया साहा ने किया बड़ा खुलासा, चार अभिनेताओं के नाम से उठाया पर्दा

कंगना रणौत के ऑफिस में तोड़फोड़ केस की बॉम्बे हाईकोर्ट में शुक्रवार को होगी सुनवाई