फ़ारूक़ अब्दुल्ला का दावा, कहा इमरान की पहल से टला भारत-पाक युद्ध का खतरा

फ़ारूक़ अब्दुल्ला का दावा, कहा इमरान की पहल से टला भारत-पाक युद्ध का खतरा

श्रीनगर: पुलवामा में हुए फिदायीन आतंकी हमले के बाद भारत और पाकिस्तान के रिश्तों में एक बार फिर तनाव गहरा गया है। हालांकि, नेशनल कॉन्फ्रेंस के नेता और जम्मू कश्मीर के पूर्व सीएम फारूक अब्दुल्ला का मानना है कि दोनों देशों के बीच जो जंग का माहौल बना हुआ था उसमें अब कमी आ गई है। फारूक ने कहा है कि पाकिस्तानी पीएम इमरान खान के सलाहकार ने पीएम मोदी और सुषमा स्वराज को जो सन्देश दिया है, वो अच्छा है।

पुलवामा हमले पर कुमार विश्वास का राजनेताओं को कड़ा सन्देश, कहा- अगर कुत्ता पागल हो जाए तो...

सोमवार को एक कार्यक्रम को संबोधित करते हुए फारूक ने कहा, “ मुझे इस बात की खुशी है कि पाकिस्तानी पीएम इमरान खान ने अपने सलाहकार को भारत भेजा था, जिन्होंने पीएम नरेंद्र मोदी और विदेश मंत्री सुषमा स्वराज जी से चर्चा की है। हमें उम्मीद है कि युद्ध का जो माहौल बन रहा था उसमें अब कुछ कमी आई है।’’ आपको बता दें कि पाकिस्तान में सत्ताधारी दल पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ (PTI) यानी इमरान खान से सांसद रमेश कुमार वनक्वानी ने रविवार को पीएम मोदी और विदेश मंत्री सुषमा स्वराज से वार्तालाप किया था।

स्मृति ईरानी ने राहुल गाँधी को घेरा, पुछा अमेठी के लिए क्या किया ?

इस मुलाकात के बाद प्रेस वालों से बात करते हुए उन्होंने कहा है कि, ‘’भारत में मेरा गर्मजोशी से स्वागत किया गया, इसके लिए मैं भारत सरकार का धन्यवाद करता हूँ। मैं वीके सिंह जी, पीएम मोदी से मिला और सुषमा जी के साथ मैंने चर्चा की। मैंने आश्वस्त किया है कि पुलवामा में हुए आतंकी हमले में पाकिस्तान का कोई हाथ नहीं है। हमें सकारात्मक दिशा की तरफ आगे बढ़ना चाहिए, हम शांति चाहते हैं।’' आपको बता दें कि पाकिस्तानी सीनेटर रमेश कुमार वनक्वानी भारतीय सांस्कृतिक संबंध परिषद (आईसीसीआर) के साथ प्रयागराज में चल रहे कुंभ मेले में शिरकत करने आए थे। इसी प्रतिनिधिमंडल ने पीएम मोदी  से मुलाकात की थी।

खबरें और भी:-

ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कहा- मेरी पत्नी मुझसे ज्यादा काबिल

लालू के साले ने किया नितीश कुमार का महिमामंडन, तेजस्वी को कहा बच्चा

वाड्रा ने दिया था राजनीति में आने का संकेत, अब मोरादाबाद में लगे ये पोस्टर