कृषि कानून वापस, आंदोलन ख़त्म.. फिर पंजाब में क्यों रेलवे ट्रैक पर धरना दे रहे किसान ?

अमृतसर: केंद्र द्वारा तीन कृषि कानूनों को वापस लेने के बाद किसानों का आंदोलन खत्म हो गया है, किन्तु पंजाब में किसान अभी भी सड़कों पर डेरा डाले हुए हैं. पंजाब के किसान नौकरी, कर्जमाफी सहित अपनी विभिन्न मांगों को लेकर रेल रोको आंदोलन कर रहे हैं. जिसके कारण रेल यातायात प्रभावित है. जानकारी के अनुसार, पंजाब के किसान मजदूर, कर्ज माफी, नौकरी और दूसरी मांगों को सरकार के खिलाफ सड़क पर उतर आए हैं.

 

आंदोलनकारी किसानों ने अमृतसर-दिल्ली रेलवे ट्रैक पर धरना प्रदर्शन आरंभ कर दिया है. इस वजह से भारतीय रेलवे को कई ट्रेनें निरस्त करनी पड़ी हैं, जबकि कुछ को टर्मिनेट किया गया है. आंदोलन के कारण उत्तर रेलवे के फिरोजपुर मंडल से चलने वाली लगभग 40 से ज्यादा ट्रेनों को निरस्त करना पड़ा है. उत्तर पश्चिम रेलवे के मुख्य जनसंपर्क अधिकारी कैप्टन शशि किरण ने बताया है कि किसान आंदोलन की वजह से कुछ ट्रेनों की सेवाएं प्रभावित हुई हैं. ऐसे में जो यात्री कहीं जाने की योजना बना रहे हैं, वे यात्रा से पहले ट्रेन की स्थिति अवश्य जान लें. अन्यथा यात्रा में समस्या हो सकती है. कुछ ट्रेन अपने प्रारंभिक स्टेशन से, तो कुछ ट्रेन आंशिक रूप से प्रभावित हैं.

वहीं, उत्तर रेलवे ने ट्वीट के माध्यम से ट्रेनों के प्रभावित होने की जानकारी दी है. जिसके अनुसार, फिरोजपुर मंडल के अलावा, जालंधर-अमृतसर सेक्शन, जालंधर-पठानकोट सेक्शन और फिरोजपुर-बठिंडा सेक्शन की ट्रेनें प्रभावित रहेंगी. इन सेक्शन पर ट्रेन या तो निरस्त की गई हैं, या आंशिक रूप से रद्द कर दी गई हैं.

अंतर्राष्ट्रीय मुद्रा कोष ने बांग्लादेश के लिए 6.6 प्रतिशत की वृद्धि की योजना बनाई

जम्मू कश्मीर नेशनल कांफ्रेंस आज परिसीमन आयोग से मुलाकात करेगी

अंतर्राष्ट्रीय मानव एकता दिवस पर CM शिवराज ने दी बधाई

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -