लोकसभा चुनाव: आप के साथ गठबंधन करें या नहीं, कांग्रेस जनता को लगा रही फ़ोन

लोकसभा चुनाव: आप के साथ गठबंधन करें या नहीं, कांग्रेस जनता को लगा रही फ़ोन

नई दिल्ली: 2019 लोकसभा चुनाव को लेकर दिल्ली में आम आदमी पार्टी (आप) और कांग्रेस के मध्य गठबंधन को लेकर खींचतान की गई है. दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल निरन्तर गठबंधन की बात कर रहे हैं, तो कांग्रेस इंकार कर रही है. किन्तु अब दिल्ली कांग्रेस में भी गठबंधन को लेकर दो फाड़ दिख रहे हैं. कांग्रेस नेता पीसी चाको गठबंधन को लेकर जनता से मशविरा ले रहे हैं तो वहीं दिल्ली कांग्रेस अध्यक्ष शीला दीक्षित का कहना है कि उन्हें इस बारे में कोई जानकारी नहीं है.

राहुल पर भाजपा का तीखा प्रहार, कहा- आपके दादा ने ही चीन को तोहफे में दी थी UNSC की सीट

दिल्ली की पूर्व सीएम शीला दीक्षित ने कहा है कि पीसी चाको साहब तो अभी यहां पर नहीं हैं, किन्तु इसके पीछे क्या शक्ति है इसके कारण   जानना  होगा. उन्होंने कहा है कि मैं प्रदेश अध्यक्ष हूं लेकिन मुझे इस बारे में कोई जानकारी नहीं है. उन्होंने कहा है कि दिल्ली कांग्रेस की इकाई  पूरी तरह से एकजुट है और गठबंधन के विरुद्ध है और इस बात पर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी भी हमारे से सहमत हैं. उन्होंने कहा है कि अगर अजय माकन और पीसी चाको गठबंधन की हिमायत कर रहे हैं तो क्यों कर रहे हैं इन वजहों के पीछे जाना पड़ेगा.

गहलोत बोले- कांग्रेस सरकार के समय 15 बार सर्जिकल स्ट्राइक हुई, लेकिन कभी इसकी चर्चा तक नहीं की

उल्लेखनीय है कि पीसी चाको दिल्ली कांग्रेस के प्रभारी हैं, उनकी ओर से दिल्ली में आम जनता को कॉल लिए जा रहे हैं. जिसमें गठबंधन को लेकर जनता की राय मांगी जा रही है. एक तरफ कांग्रेस की तरफ से गठबंधन की ओर से इंकार किया जा रहा है. तो वहीं अब आम आदमी पार्टी ने भी आक्रामक रवैया अपना लिया है. आप नेता संजय सिंह ने कहा है कि दिल्ली में उनकी पार्टी सातों सीट पर प्रत्याशी उतारेगी.

खबरें और भी:-

इमरान पर टूटा सुषमा का कहर, कहा अगर इतने उदार हैं आप तो सौंप दें मसूद अज़हर

राहुल गाँधी का विवादित ट्वीट, कहा- चीन से डरते हैं पीएम मोदी

VIDEO: जब ऑटोवाले ने की पीएम मोदी की तारीफ, बताया 'कलयुग का भगवान'