आर्थिक सुधार की रफ्तार फिर तेज, त्योहारों की वजह से बढ़ सकती है महंगाई

नई दिल्ली: भारत की इकोनॉमी ने कोरोना की दूसरी लहार से ही अपनी वापसी करना शुरू कर दिया, जिसमें साप्ताहिक गतिविधि सूचकांक बीते सप्ताह और मजबूत हो चुके है।, जहां रविवार को खत्म हुए सप्ताह के लिए नोमुरा का इंडिया बिजनेस रिजम्पशन इंडेक्स 100.6 से बढ़कर 101.9 पर पहुंच गया। 29 अगस्त को समाप्त सप्ताह में 102.8 के शिखर पर पहुंचने के साथ महामारी की शुरुआत के बाद से यह सूचकांक के लिए दूसरा सबसे बड़ा प्रिंट है। नोमुरा के अर्थशास्त्रियों ने कहा-  "विकास चक्र में सुधार हो रहा है," बैंक ऋण वृद्धि बढ़कर 6.7 प्रतिशत हो गई। अगस्त के अंत में 5.5 प्रतिशत के ट्रफ से, और त्योहारी सीजन के शुरू होते ही इसमें और तेजी आने की संभावना है।

दैनिक कोविड मामलों में भी कमी आई है और टीकाकरण की गति तेज हो गई है। इससे खपत और सेवाओं में सुधार में सहायता मिलनी चाहिए, भले ही तीसरी लहर एक जोखिम बनी रहे।"

क्वांटईको रिसर्च ने कहा, "डार्ट इंडेक्स का महामारी के बाद के शिखर पर वापस लौटना आर्थिक गतिविधियों में लगातार चौथे महीने जारी रहने की पुष्टि है। जहां  टीकाकरण पर तेजी से प्रगति के साथ ही "त्योहारों के मौसम की शुरुआत शायद इस गति को सितंबर की दूसरी छमाही में भी टिक कर रख सकती है।

यूपी में कोरोना के बाद डेंगू ने ढाया कहर, अस्पतालों में मरीजों की संख्या बढ़ी

पीएम मोदी ने सुनाया अलीगढ़ से जुड़ा अपने बचपन का किस्सा

राहुल गांधी के तंज पर बोले सीएम योगी- उपद्रवियों के साम्राज्य पर बुलडोजर चलाना नफरत है तो...

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -