यूपी में कोरोना के बाद डेंगू ने ढाया कहर, अस्पतालों में मरीजों की संख्या बढ़ी

प्रयागराज: ब्रज इलाके के उपरांत अब डेंगू और वायरल फीवर  कानपुर और प्रयागराज में भी तेजी से अपना कहर बरपा रहा है. कानपुर में प्रतिदिन तकरीबन 100 बुखार से पीड़ित मरीज हॉस्पिटल पहुंच रहें है, जबकि प्रयागराज में 97 डेंगू के सामने आए हैं. स्वास्थ्य विभाग का कहना है कि अभी केस और बढ़ सकते हैं. जिसके देखते हुए सुरक्षा के तमाम उपाय किए जा रहे हैं. कानपुर के उर्सला हॉस्पिटल के CMS डॉ अनिल निगम ने कहा कि प्रतिदिन 75-100 बुखार से पीड़ित मरीज हॉस्पिटल पहुंच चुके हैं.

रैपिड टेस्ट में 2 मरीजों में डेंगू के मामलों की पुष्टि हो चुकी है, लेकिन एलिजा टेस्ट में डेंगू सामने आया है. फ़िलहाल अस्पाताल में डेंगू का एक भी मरीज नहीं है. लेकिन अगर अन्य हॉस्पिटल की बात करें तो स्थिति बिगड़ती नजर आने लगी है. मंगलवार को कानपुर में बुखार से तीन लोगों दम तोड़ दिया। कानपुर के कल्याणपुर ब्लॉक के करसौली की निर्मला (55), वैभवी (8) और अरौल के शांति (65) की जान जा चुकी है. प्रयागराज में 97 मरीजों में डेंगू की पुष्टि: इधर प्रयागराज में भी डेंगू के केस बढ़ने लगे है. अभी तक 97 लोगों में डेंगू की पुष्टि हुई है जिनका उपचार अब भी किया जा रहा है. गनीमत यह है कि अभी डेंगू से किसी की जान नहीं गई है. CMO नानक सरन ने कहा कि अभी तक कुल 97 मरीज डेंगू से पीड़ित सामने आए है, जिनमे से 9 का उपचार चल रहा है.

जिले में अभी तक डेंगू से कोई मृत्यु की खबर सामने नहीं आए है उन्होंने  बोला है कि शहर में डेंगू के मामले और बढ़ने की संभावना है लिहाजा इसे नियंत्रित करने के लिए हर संभव प्रयास किए जा रहे हैं. मंगलवार को 16 की मौत: जहां इस बात का पता चला है कि मंगलवार को कानपुर और ब्रज क्षेत्र में 7 बच्चों सहित 16 और लोगों की मौत डेंगू और वायरल फीवर के कारण से हुई है. फिरोजाबाद में 6 बच्चों सहित 9, कासगंज में तीन, एटा में एक और कानपुर में तीन लोगों की जान जा चुकी है.

करीना नहीं, कंगना करेंगी माता सीता का रोल, पोस्ट शेयर कर लिखा- जय सियाराम

पेट्रोल-डीजल की बढ़ती कीमतों से जल्द मिलेगी राहत, सरकार उठाएगी ये बड़ा कदम

एक बार फिर भाजपा ने ममता बनर्जी पर साधा निशाना, कहा- 'दीदी ने चुनावी नामांकन में अपने ऊपर लंबित आपराधिक मामलों..."

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -