जिला अस्पताल में ऑपरेशन कर निकला महिला के शारीर से तीर

धार: धार के जिला भोज चिकित्सालय के सर्जरी विशेषज्ञ डॉ. नीरज छारी ऑपेरशन करते हुए महिला के शारीर में दो दिन से फसे तीर को निकल कर उसकी जान बचायी गयी. सैकड़ीबाई पति फाटू (50) निवासी जलोखिया (अमझेरा) को रविवार को अज्ञात व्यक्ति द्वारा तीर मार दिया गया था. 

जिसके बाद परिजनों द्वारा पीड़िता को जिला अस्पताल में उपचार के लिए भर्ती करवाया गया था. इसके पहले परिजनों ने तीर शरीरी से अलग कर दिया गया था. इसके बाद परिजन ड्रेसिंग करवा कर पीड़िता को घर ले गए थे. 

घर पहुंचने के कुछ देर बाद पीड़िता को फिर तकलीफ हुई. परिजनों ने देखने पर पाया की तीर का अगला लोहे का हिस्सा अब भी शरीरी में फसा था. परिजन तुरंत दोबारा पीड़िता को लेकर जिला अस्पताल पहुंचे जहां डॉक्टर्स द्वारा तुरंत महिला का सिटी स्कैन करवाया गया. जिसमे तीर का अगला हिस्सा शरीरी में फसा देखा गया.

डॉक्टर्स ने तुरंत परिजनों को पीड़िता को लेकर इंदौर जाने की सलाह दी. लेकिन परिजन नहीं माने वह जिला अस्पताल के डॉक्टर्स पर इलाज के लिए दवाब बनाने लगे. जिस पर डॉ. नीरज छारी ने ऑपरेशन जिला अस्पताल में करने का फैसला किया गया. 

डेढ़ घंटे चले ऑपरेशन में डॉक्टर्स द्वारा मरीज़ के शारीर सेर तीर का अगला हिस्सा निकल दिया गया. डॉक्टर्स के अनुसार तीर का अगला हिस्सा कलेजे तक जा पंहुचा था. जिसे ऑपरेशन के बाद निकल कर शारीर से अलग कर दिया गया है. समय पर इलाज ना होने की स्थिति में मरीज की हालत और ज्यादा बिगड़ सकती थी.  

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -