चारों धामों के तीर्थ पुरोहितों ने किया आंदोलन का ऐलान, 27 नवंबर को मनाएंगे 'काला दिवस'

देहरादून: चारधाम देवस्थानम प्रबंधन बोर्ड के विरोध में चारधाम तीर्थ पुरोहित हकहकूकधारी महापंचायत ने फिर से आंदोलन की घोषणा कर दी है। आज मंगलवार को चारों धामों के तीर्थ पुरोहित एवं हकहकूकधारी यमुना कॉलोनी पर मौजूद मंत्रियों के आवासों का घेराव करेंगे। इसके अतिरिक्त 27 नवंबर को काला दिवस के तौर पर मनाकर देहरादून में आक्रोश रैली निकाली जाएगी।

वही अग्रवाल धर्मशाला में चारधाम तीर्थ पुरोहित हकहकूकधारी महापंचायत के संयोजक सुरेश सेमवाल की अध्यक्षता में मीटिंग आयोजित की गई। जिसमें बदरीनाथ, केदारनाथ, गंगोत्री तथा यमुनोत्री धाम से संबंधित पंचायत एवं मंदिर समिति से संबंधित पदाधिकारी शामिल हुए। मीटिंग में सर्वसम्मति से फैसला लिया गया कि आगामी 27 नवंबर को चारों धामों के तीर्थ पुरोहित काला दिवस के तौर पर मनाएंगे। इस दिन देहरादून में देवस्थानम बोर्ड के विरोध में गांधी पार्क से सचिवालय तक आक्रोश रैली निकाली जाएगी। महापंचायत ने फैसला लिया कि 23 नवंबर को यमुना कॉलोनी में मंत्रियों के आवासों का घेराव किया जाएगा।

वही महापंचायत के प्रवक्ता डॉ.बृजेश सती ने बताया कि 27 नवंबर 2019 को सरकार ने कैबिनेट से देवस्थानम बोर्ड बनाने का प्रस्ताव पारित किया गया था। इस दिन को चारों धामों के तीर्थपुरोहित तथा हकहकूकधारी काला दिन के तौर पर मनाएंगे। देहरादून में आक्रोश रैली निकाल कर आंदोलन के आगे की योजना पर फैसला लिया जाएगा।

सबरीमाला मंदिर में प्रसाद बनाने के लिए 'हलाल' गुड़ का इस्तेमाल ? हाई कोर्ट पहुंचा मामला

रामायण एक्सप्रेस में वेटरों की ड्रेस पर साधुओं ने मचाया बवाल, कहा- ''हिंदू धर्म और उसके संतों का....''

मार्कोनी ने नहीं बल्कि इस भारतीय वैज्ञानिक को जाता है रेडियो के अविष्कार का श्रेय

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -