आलसी कर्मचारियों से तंग आया लातूर का डिप्टी मेयर, दफ्तर में लगाया ताला

Jun 11 2019 01:43 PM
आलसी कर्मचारियों से तंग आया लातूर का डिप्टी मेयर, दफ्तर में लगाया ताला

लातूर: महाराष्ट्र के लातूर महानगर पालिका (एलएमसी) के अधिकारियों और कर्मचारियों की बेरुखी और बेतुके रवैये से तंग आकर सत्ताधारी भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के डिप्टी मेयर देवीदास काले ने सोमवार को अपने अनूठे अंदाज में काम करने का निर्णय लिया. एक अभूतपूर्व कदम में, काले ने पूरे नगर प्रशासन को बड़ा झटका देते हुए महत्वपूर्ण नगर नियोजन विभाग के दफ्तर को बंद कर दिया.

यह खबर जंगल की आग की तरह फैली, कई कार्यकर्ता और अधिकारी अन्यत्र यहां-वहां भटकते रहे, काले के आक्रोश से बचने के लिए वह अपने कार्यस्थल पर वापस लौट आए. जानकारी की पुष्टि करते हुए काले ने वर्तमान आलसी कार्य संस्कृति के लिए नागरिक निकाय में तत्कालीन कांग्रेस शासन को दोषी करार दिया है.

काले ने प्रेस वालों से कहा है कि, "पिछले दो वर्षों से हम यहां कुछ अच्छा करने का प्रयास कर रहे हैं. लेकिन कांग्रेस के शासन के सालो पुरानी आदतें अभी तक पूरी तरह से ख़त्म नहीं हुई हैं. सख्त चेतावनी देने के लिए मुझे इस उय का सहारा लेना पड़ा." पिछले छह महीनों से फाइलों के ढेर लगे रहने की वजह से उनकी तड़प बनी हुई है और लोक कल्याण के लिए कोई प्रशासनिक फैसला नहीं लिया जा रहा है.

युवा यहां से हर माह कमाए 25 हजार रु वेतन, इस तरह से जल्द करें आवेदन

‘वॉशिंगटन मॉन्यूमेंट’ में मनाया जाएगा अंतरराष्ट्रीय योग दिवस, 2500 लोगों ने करवाया पंजीकरण

विकासशील अर्थव्यवस्थाओं के नुकसान को लेकर कुछ ऐसा बोले उद्योग मंत्री