DDMA ने दी दिल्ली में छठ पूजा की इजाजत, लेकिन साथ रहेंगी ये शर्तें

नई दिल्ली: देश की राजधानी दिल्ली में पहले छठ के आयोजन पर रोक लगाने के बाद अब इसके सार्वजनिक आयोजन को लेकर अनुमति दे दी गई है. दिल्ली आपदा प्रबंधन प्राधिकरण (DDMA) ने बुधवार को हुई बैठक में यह निर्णय लिया है. दिल्ली के डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया ने इसकी घोषणा के साथ ही आयोजन में कोरोना संबंधी प्रोटोकॉल का सख्ती से पालन करने की बात कही है.

बुधवार को एक प्रेस कांफ्रेंस को संबोधित करते हुए डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया ने कहा कि दिल्ली में कोरोना के हालात नियंत्रण में हैं, किन्तु सावधान रहने की जरूरत है. त्योहारों का सीजन है छठ पर्व से लोगों की भावनाएं जुड़ी हुईं थी. DDMA की मीटिंग में फैसला लिया गया है कि दिल्ली में छठ मनाने की इजाजत दे दी जाएगी, किन्तु स्ट्रिक्ट प्रोटोकॉल का पालन करते हुए. इसके साथ पहले से निर्धारित स्थानों पर ही कार्यक्रम होगा. साथ ही लोगों को मास्क आदि शर्त का पालन करना होगा. बता दें कि दिवाली के छह दिन बाद से छठ पूजा आरंभ हो जाती है. इस बार छठ पूजा 8 नवंबर से प्रारम्भ होगी. यह पूजा 4 दिनों तक चलती है. 

वहीं इस साल भी दिल्ली में प्रदूषण के मद्देनज़र पटाखों पर भी प्रतिबन्ध लगाया गया है. सीएम केजरीवाल ने यह आदेश जारी करते हुए कहा था कि बीते 3 वर्षों से दीवाली के वक़्त दिल्ली के प्रदूषण की खतरनाक स्तिथि को देखते हुए गत वर्ष की तरह इस बार भी हर प्रकार के पटाखों के भंडारण, बिक्री एवं उपयोग पर पूर्ण प्रतिबंध लगाया जा रहा है. 

राष्ट्रीय सुरक्षा चिंताओं के कारण अमेरिका द्वारा रद्द किया गया चीन दूरसंचार लाइसेंस

यूपी ने खाद्य तेलों के भंडारण पर 1-25 टन तक की स्टॉक लगाई सीमा

मंत्री टी हरीश राव ने बीजेपी के घोषणापत्र का उड़ाया मज़ाक

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -