222 क्विंटल पुष्पों से सजाया गया दरबार साहिब, गुरु रामदास जी का 487वां प्रकाश पर्व आज

अमृतसर: अमृतसर साहिब को बसाने वाले, सिखों के चौथे गुरु श्री गुरु रामदास जी का आज 487वां प्रकाश पर्व मनाया जा रहा है। इस अवसर पर दरबार साहिब को 115 किस्म के 222 क्विंटल फूलों से सजाया गया है। पूरे देश से आए भक्तों ने फूलों के साथ-साथ इसे खूबसूरत रोशनी से भी सजाया है। सजावट इतनी मनमोहक है कि आप इसे देखते ही रह जाएंगे। गत वर्ष कोरोना महामारी के कारण भी यहां 1.50 लाख के लगभग श्रद्धालु पहुंचे थे, मगर इस साल 2 लाख से अधिक श्रद्धालुओं के दरबार साहिब में माथा टेकने आने की संभावना है।

रिपोर्ट के मुताबिक, थाईलैंड, इंडोनेशिया के अतिरिक्त कलकत्ता, दिल्ली, पूणे और बेंगलुरु से फूलों के 5 ट्रक यहाँ आए थे। गुलदाउदी, गुलाब, मैरीगोल्ड, जरबेरा, सोन चंपा, ऑर्किड, लिलियम, कार्नेशन, टाइगर फ्लॉवर, सिंगापुरी ड्रफ्ट, स्टार फ्लॉवर, एलकोनिया, कमल गेंदा, हाइलेंडर, कमल और मोतिया के फूलों का इस्तेमाल गुरूद्वारे की सजावट के लिए किया गया है। मुंबई से 100 से अधिक भक्त केवल फूलों की सजावट के लिए इकबाल सिंह के निर्देशन में अमृतसर पहुंचे हैं। शुक्रवार को दरबार साहिब में सुंदर जलौ सजाए जाएंगे। वहीं रात के वक़्त विशेष कवि सम्मेलन भी होगा।

शाम को दरबार साहिब में आतिशबाजी की जाएगी। लंगर में स्वादिष्ट पकवानों के साथ मिठाइयां भी बांटी जाएंगी। बता दें कि प्रकाश पर्व पर आतिशबाजी आकर्षण का केंद्र रहेगी। यह प्रदूषण मुक्त और वातावरण फ्रेंडली आतिशबाजी होगी, जिसके लिए 15 सदस्यों की टीम तैयार है। आज शाम सुंदर जलौ भी सजाएं जाएंगे। शाम को दीपमाला भी होगी और पूरे दरबार साहिब में परिक्रमा में दीप प्रज्वल्लित किए जाएंगे।

केंद्रीय मंत्रिमंडल ने प्रधानमंत्री गतिशक्ति राष्ट्रीय मास्टर प्लान को दी मंजूरी

61 हजार के नीचे आया सेंसेक्स, निफ्टी का रहा ये हाल

जापान में विदेशी आगंतुकों में आई 99 प्रतिशत से अधिक की गिरावट

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -