कोरोना की मार से हारा इंडोनेशिया, नहीं होंगे इस वर्ष कोई चुनाव

जकार्ता: एकाएक बढ़ा ही जा रहा कोरोना का प्रकोप आज पूरी दुनिया के लिए महामारी का रूप लेता रहा है. वही  इस वायरस की चपेट में आने से अब तक 2 लाख 58 हाजार से अधिक मौते हो चुकी है. लेकिन अब भी यह मौत का खेल थमा नहीं है. इस वायरस ने आज पूरी दुनिया को हिला कर रख दिया है. कई देशों के अस्पतालों में बेड भी नहीं बचे है तो कही खुद डॉ. इस वायरस का शिकार बनते जा रहें है. 

इंडोनेशिया के राष्‍ट्रपति जोको विदोदो (Joko Widodo) ने लियू (Lieu) में एक कानून पर हस्‍ताक्षर किया. इसके अनुसार, इस साल चुनावों की तारीख को फिलहाल आगे बढ़ाकर सितंबर से दिसंबर कर दिया गया. हालांकि ये तारीख भी महामारी के हालात को देखते हुए आगे बढ़ाई जा सकती है.

यहां के 270 क्षेत्रों में इन चुनावों का आयोजन किया गया था. इसके तहत 9 गर्वनर, 37 मेयर, और 224 जिला प्रमुखों का चुनाव होना था. इंडोनेशिया की कुल जनसंख्‍या 26 करोड़ से अधिक है. यहां कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों का आंकड़ा 12,071 है और मंगलवार दोपहर तक इसके कारण मरने वालों की संख्‍या 872 हो गई. पिछले साल के अंत में चीन से शुरू हुए नॉवेल कोरोना वायरस के सफर ने पूरी दुनिया का चक्‍कर चार माह के भीतर ही लगा लिया और पृथ्‍वी पर मौजूद तमाम देशों को संक्रमित कर दिया है. विश्‍व स्‍वास्‍थ्‍य संगठन (WHO) के अनुसार, बुधवार सुबह 11 बजे तक दुनिया भर में कोविड-19 (COVID-19) महामारी से संक्रमित लोगों का आंकड़ा 3,525,116 हो गया वहीं मरने वालों की संख्‍या 243,540 हो गई.

भीषण हादसा: यूएई के आवासीय टॉवर में लगी आग, चारों और मचा कोहराम

कोरोना ने मचाया तहलका, बीते 24 घंटों में 3466 पॉजिटिव मरीजों की हुई मौत

कोरोना वायरस के साथ साइबर क्राइम ने लोगों को डराया

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -