काॅरिडोर का विरोध, बलूच लोगों ने किया प्रदर्शन

नई दिल्ली : चीन और पाकिस्तान के बीच बनने वाले आर्थिक काॅरिडोर का विरोध भी अब बलूच लोगों ने करना शुरू कर दिया है। बलचू तथा मनावाधिकार कार्यकर्ताओं ने अपने विरोध को कनाड़ा में दर्ज कराया। कनाड़ा में स्थित चीन के काॅनसुलेट जनरल के कार्यालय के सामने बलूच लोग तीन दिनों तक मौन प्रदर्शन के लिये डटे रहे।

गौरतलब है कि इसके पहले से ही बलूचिस्तान के लोग पाकिस्तान के खिलाफ सड़क पर उतर आये है तथा बलूचिस्तान की आजादी की मांग जोर पकड़ने लगी है। चीन ने बलूचिस्तान के रास्ते पाकिस्तान तक आर्थिक काॅरिडोर बनाना शुरू किया है, इसका विरोध भी बलूचिस्तान के लोग करने लगे है।

प्रदर्शन करने वाले बलूच के मानवाधिकार कार्यकर्ताओं का आरोप है कि काॅरिडोर बनने की घोषणा के बाद से बलूचिस्तान में मानवाधिकारों का उल्लंघन ओर अधिक बढ़ गया है। यह भी आरोप लगाया गया है कि बलूचिस्तान के लोगों पर होने वाले अत्याचार व नरसंहार के पीछे चीन की भी भूमिका है।

बलूच नेता बुगती को शरण देने की तैयारी में भारत

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -