योगी सरकार के खिलाफ मोर्चा खोलने की तैयारी कर रही कांग्रेस

महामारी कोरोना की वजह से लॉकडाउन बढ़ाने के बाद प्रवासी कामगार व श्रमिकों की मदद करने के मामले में कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है. देश के पूर्व प्रधानमंत्री स्वर्गीय राजीव गांधी की पुण्य तिथि पर आज यानी 21 मई को प्रियंका गांधी ने सभी कांग्रेस के कार्यकर्ता तथा नेताओं से दोपहर में सोशल मीडिया पर योगी आदित्यनाथ सरकार के दमन विरोध करने के साथ ही गरीब व श्रमिकों की आवाज को बुलंदी देंगे.

लॉकडाउन-4 में और सख्त हुई इंदौर पुलिस, नियम तोड़ने वालों को ऐसे सीखा रही सबक

आपकी जानकारी के लिए बता दे कि कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव तथा उत्तर प्रदेश की प्रभारी प्रियंका गांधी वाड्रा ने आज कांग्रेस के कार्यकताओं के के लिए संदेश जारी किया. प्रियंका ने लिखा कि साथियों, आपने देखा योगी आदित्यनाथ सरकार का कोरोना महामारी से लडऩे का तरीका. कांग्रेस पार्टी ने प्रवासी श्रमिकों के लिए बसों का इंतजाम किया तो प्रदेश सरकार ने उत्तर प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष को फर्जी मुकदमे लगाकर जेल भेज दिया. कोरोना आपदा काल में पूरा देश एकजुट होकर महामारी से लड़ रहा है मगर यूपी सरकार श्रमिकों के लिए बस, ट्रेन टिकट, खाने और राशन का इंतजाम करने वालों को जेल में डाल रही है.

पूर्व केंद्रीय मंत्री यशवंत सिन्हा गिरफ्तार, राजघाट पर दे रहे थे धरना

अगर आपको नही पता तो बता दे कि राजीव गांधी जी का 30वां शहादत दिवस आज है. राजीव जी ने देश के लिए अपनी जान दी. वह हिंदुस्तान और इसके वासियों से बेइंतहा प्यार करते थे. गरीबों का दर्द उनसे देखा नहीं जाता था. हम सब उनकी सोच के वारिस हैं. हमने राजीव जी से सीखा है कमजोरों की मदद करना. हमें कोई नहीं डरा सकता. राजीव जी की याद करते हुए आज, 21 मई 2020, दोपहर 1 बजे से हमारे 50,000 हजार कार्यकर्ता फेसबुक लाइव के माध्यम से श्रमिकों की आवाज उठाएंगे और राज्य दमन का विरोध करेंगे. यह राजीव जी को एक सच्ची श्रद्धांजलि होगी. पूरी कांग्रेस पार्टी, समस्त अग्रिम संगठन व विभाग और सेल, फोरम इत्यादि व हमारा एक एक कार्यकर्ता पूरी ताकत से श्रमिकों की आवाज उठाएंगे और राज्य दमन का प्रतिरोध करेंगे. समस्त पीसीसी पदाधिकारियों, समस्त जिला व शहर अध्यक्षों, फ्रंटल, विभागों, सेल के अध्यक्ष/इंचार्ज को पूरी शिद्दत से इसकी तैयारी में लग जाना है और दोपहर 12 बजे तक पीसीसी कार्यालय व सोशल मीडिया विभाग को जिले के भागीदारों की सूची लिखित या फोन से उपलब्ध करा देनी है. हम सबको मिलकर इसे सफल बनाना है. 

प्रवासी मजदूरों के लिए महिला पुलिस अधिकारी ने किया ऐसा काम

भाले से पत्नी की हत्या करने वाला पति हुआ गिरफ्तार

इंदौर: मोहम्मद यूनुस ने तोड़ा लॉकडाउन, गिरफ्तार करने पहुंची पुलिस पर लोगों ने बरसाए पत्थर

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -