TikTok को टक्कर देने के लिए भारत ने उतारा 'चिंगारी' एप

TikTok को टक्कर देने के लिए भारत ने उतारा 'चिंगारी' एप

भारत और चीन के बीच चल रहे सीमा विवाद के बाद से टिक-टॉक एप को बैन करने की मांग को हवा मिली  है। ऐसे में  भारतीय मोबाइल एप चिंगारी को गूगल प्ले-स्टोर पर 25 लाख से ज्यादा बार डाउनलोड किया जा चूका  है। इसके साथ ही इस एप ने काफी लोकप्रियता भी बटोर रखी है। इस एप को गूगल प्ले-स्टोर के ट्रेंडिंग चार्ट में भी जगह मिल चूकी है। जानकारी के लिए बता दें कि चिंगारी मोबाइल एप को पेश करने के महज 15 दिनों के अंदर 10 लाख से अधुक बार डाउनलोड किया गया था।

चिंगारी मोबाइल एप
बता दें कि चिंगारी मोबाइल एप को छत्तीसगढ़, ओडिशा और कर्नाटक के आईटी विशेषज्ञों ने मिलकर बनाया है। और चिंगारी एप के चीफ सुमित घोष का कहना है कि हमारी टीम को इस एप को तैयार करने में पूरी दो वर्ष का समय लग गया है। वहीं उन्होंने आगे कहा है कि हमने इस एप को भारतीय उपभोक्ता की जरूरतों को ध्यान में रखकर तैयार किया है।

टॉप रेटिंग वाले एप की सूची में शामिल है चिंगारी एप
चीनी मोबाइल एप के विरुद्ध  बॉयकॉट चाइना अभियान के चलते चिंगारी एप को बहुत फायदा हुआ है। यही वजह है कि इस एप ने गूगल प्ले-स्टोर के टॉप चार्ट में तीसरा स्थान प्राप्त किया है।
 
चिंगारी मोबाइल एप के फीचर्स
भारतीय एप चिंगारी एप से आप शॉर्ट वीडियो बना सकते हैं और अपने दोस्तों के साथ साझा  कर सकते हैं। वहीं इस एप पर आपको ट्रेंडिंग न्यूज, मनोरंजन, फनी वीडियो, लव स्टेटस जैसे वीडियो मिल जायेंगे । एप के फीचर्स को देखकर लग रहा है यह एप काफी हद तक हेलो एप की तरह है। चिंगारी पर साझा  किए पोस्ट को लाइक, कॉमेंट शेयर कर पाएंगे । व्हाट्सएप पर शेयर करने के लिए एक अलग से बटन दिया गया है जो चाइनीज एप हेलो की तरह है। इस  एप में किसी उपभोक्ता को फॉलो करने का भी मौका मिल सकता है ।

इन भाषाओं को करता है सपोर्ट
चिंगारी मोबाइल एप उड़िया, गुजराती और मराठी जैसी कई भारतीय भाषाओं को सपोर्ट कर रहा  है।

ये है भारतीय कम्पनियो के शानदार ईयरफोन, बन सकते है आपकी पहली पसंद

यह है Made in India स्मार्टफोन, देखिये पूरी लिस्ट

ATM का उपयोग करते समय रखे इन बातो का ध्यान