केंद्र सरकार ने की नेताजी पर राजनीति न करने की मांग

केंद्र सरकार ने की नेताजी पर राजनीति न करने की मांग

कोलकाता: हाल ही में पश्चिम बंगाल सरकार ने आजाद हिंद फौज के संस्थापक नेताजी सुभाषचंद्र बोस से जुड़ी 64 फाईलों को सार्वजनिक किए जाने के मसले पर केंद्र सरकार ने पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनजी से राजनीति न करने की अपील की है। इस दौरान कहा गया है कि किसी को इस मामले में राजनीति नहीं करना चाहिए। भाजपा के राष्ट्रीय प्रवक्ता एमजे अकबर ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जैसा सक्रिय और कोई नहीं है। 

सरकार ने इस मसले पर बेहतर पहल की। उल्लेखनीय है कि नेताजी सुभाषचंद्र बोस से जुड़ी फाईलों को सार्वजनिक करने के मामले में भाजपा द्वारा प्रचारित किया जा रहा है कि केंद्र सरकार ने इस मसले पर पहल की। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सुभाषचंद्र बोस के परिवार से भेंट की। भाजपा के सचिव सिद्धार्थ नाथ सिंह  ने कहा कि राज्य सरकार से इस मसले पर सरकार से राजनीति न करने की अपील की हैं। 

इस मामले में परीक्षण के लिए समिति का गठन किया गया। यह भी कहा गया कि केंद्र के पास जिस तरह की फाईलें हैं उनका अन्य देशों के साथ संबंधों पर असर पड़ सकता है। मगर इस मामले में पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने कहा कि सरकार के इस प्रयास का स्वागत है, यही नहीं सरकार को गोपनीय फाईल सार्वजनिक करने को लेकर नीति तैयार की जा रही है। आॅल इंडिया फाॅरवर्ड ब्लाॅक द्वारा गोपनीय सूची से इन फाईलों को हटा दिया गया। केंद्र द्वारा 135 फाईलों को सार्वजनिक करने की मांग की गई। कांग्रेस प्रवक्ता ने मांग की कि सरकार को नेताजी की फाईलें सार्वजनिक करना चाहिए। केंद्र को ऐसी नीति बनाने की जरूरत है जिससे गोपनीय फाईलों को सर्वजनिक करने की बात तय की जा सके।