पटना AIIMS में कोरोना विस्फोट, 10 दिनों में 600 स्वास्थ्यकर्मी हुए संक्रमित

पटना: बिहार के पटना एम्स में प्रतिदिन कोरोना ब्लास्ट हो रहा है, यहां 5 जनवरी से अब तक हॉस्पिटल के कुल 607 स्वास्थ्य कर्मी एवं चिकित्सक पॉजिटिव हो चुके हैं। इनमें 200 सौ से अधिक चिकित्सक सम्मिलित हैं। कहा जा रहा है कि पॉजिटिव होने वालों में सबसे ज्यादा जूनियर रेजिडेंट डॉक्टर हैं। इसमें 53 सीनियर रेजिडेंट डॉक्टर जबकि 13 कंसल्टेंट तथा 20 इंटर्न सम्मिलित हैं।

वहीं 300 से अधिक नर्सिंग स्टॉफ भी कोरोना पॉजिटिव हो गए हैं। पटना एम्स में एक साथ इतने लोगों के संक्रमित होने के पश्चात् हॉस्पिटल मेनेजमेंट के लिए समस्या बढ़ गई है। इसके साथ ही 45 टेक्निकल स्टाफ तथा 23 अटेंडेट भी संक्रमित पाए गए हैं। जबकि बृहस्पतिवार को एम्स में 15 डॉक्टर सहित 72 स्वास्थ्यकर्मी कोरोना संक्रमित पाए गए हैं। इनमें 37 नर्सिंग स्टॉफ हैं, 8 जूनियर रेजिडेंट, चार सीनियर रेजिडेंट, एक इंटर्न एवं दो कंसल्टेंट सम्मिलित हैं।

वही बिहार मे कोरोना रफ़्तार से फैल रहा है। बिहार में इसकी संख्या 330 हजार के पार कर गई है। बृहस्पतिवार को 6 हजार से ज्यादा लोग कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं। इनमें सबसे अधिक पटना के केस हैं। पटना में 2275 की रिपोर्ट संक्रमित आई है। पटना में संक्रमण की रफ्तार रोजाना रिकॉर्ड तोड़ रही है। रिपोर्ट के मुताबिक, यहां कोरोना का टेस्ट कराने वाला हर चौथा इंसान संक्रमित है।

अगर आपके पास भी है ऐसा 1 रुपए का सिक्का तो करोड़पति बन सकते हैं आप, बस करना होगा ये काम

भारतीय रेलवे ने रद्द की 1,067 ट्रेनें, ऐसे चेक करे पूरी लिस्ट

मकर संक्रांति पर पीएम मोदी ने दी बधाई, कहा- ‘भारत की जीवंत सांस्कृतिक विविधता को दर्शाते हैं'

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -