नासा ने प्लूटो को फिर से माना ग्रह, 2006 में किया था सौर मंडल से बाहर

Aug 29 2019 02:41 PM
नासा ने प्लूटो को फिर से माना ग्रह, 2006 में किया था सौर मंडल से बाहर

वाशिंगटन: अमेरिकी अंतरिक्ष एंजेसी नासा ने अंतरिक्ष के दूसरे सबसे छोटे खगोलीय पिंड प्लूटो (Pluto) को एक बार फिर से ग्रह के रूप में मान्यता प्रदान कर दी है. नासा के चीफ जिम ब्राइडनस्टिन (Jim Bridenstine) ने प्लूटो को सौर मंडल के एक ग्रह (Planet) के रूप में मान्यता दे दी है. आकार में सबसे छोटा होने पर प्लूटो को वर्ष 2006 में सौर मंडल से बाहर कर दिया गया था, किन्तु अब नासा ने माना है कि खगोलीय पिंड प्लूटो आकार में छोटा होने के बाद भी एक ग्रह है.

हाल ही में अमेरिका के ओक्लाहोमा में आयोजित किए गए पहले रोबोटिक्स इवेंट में नासा के चीफ जिम ब्राइडनस्टिन ने सौर मंडल पर बात करते हुए प्लूटो को फिर से ग्रह (Planet) का दर्जा दे दिया है. नासा चीफ जिम ब्राइडनस्टिन ने कहा है कि वह इस बात से सहमत नहीं हैं कि खगोलीय पिंड प्लूटो सोलर सिस्टम का प्लेनेट नहीं है.
 
अंतरिक्ष विज्ञानशास्त्री कॉरी रिपेनहेगन (Cory Reppenhagen) ने अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल पर एक वीडियो साझा किया है, जिसमें नासा चीफ कहते नज़र आ रहे हैं कि, 'मेरे विचार से प्लूटो एक ग्रह है. यहां मौजूद मीडिया ये अवश्य लिख सकती है कि नासा एडमिनिस्ट्रेटर ने प्लूटो को फिर से एक ग्रह घोषित किया. मैंने जिस तरह से चीजों को सीखा है, उसके लिए प्रतिबद्ध हूं.'

इस देश में आत्मा पर भी लगा है टैक्स, जानें ऐसे ही अजीब टैक्सोन के बारे में

पाक पीएम को अभी भी है विश्व कप में भारत के हाथों मिली हार का मलाल

भारत से तनाव के बीच पाकिस्तान ने किया बैलिस्टिक मिसाइल का परिक्षण, आखिर क्या सन्देश देना चाहता है पाक ?