+

जुकाम का वायरस गर्भवती महिला के लिए बहुत ज्यादा खतरनाक, इस तरह पहुंचता है नुकसान

जुकाम का वायरस गर्भवती महिला के लिए बहुत ज्यादा खतरनाक, इस तरह पहुंचता है नुकसान

गर्भनाल के जरिये जुकाम का वायरस भ्रूण की कोशिकाओं तक पहुंच सकता है. इससे गर्भवती महिलाओं के साथ-साथ उनके अजन्मे बच्चे भी प्रभावित हो सकते हैं. एक नए अध्ययन में यह दावा किया गया है. इस शोध में अमेरिका की टुलाने यूनिवर्सिटी के शोधकर्ता भी शामिल थे. शोधकर्ताओं ने कहा, ‘गर्भनाल शरीर का एक अंग है जो गर्भावस्था के दौरान गर्भाशय में विकसित होती है. गर्भ में पल रहे बच्चे के लिए यह एक द्वारपाल का काम करती है. यानी जीवाणुओं और विषाणुओं से उनकी रक्षा करती है और मां के जरिये भ्रूण को आवश्यक पोषण भी देती है.’

अमेरिका में भारतीय छात्र की हत्या करने वाले आरोपी ने किया सरेंडर, कोर्ट में पेशी आज

आपकी जानकारी के लिए बता दे कि पीएलओएस वन नामक जर्नल में प्रकाशित अध्ययन में बताया गया है कि भ्रूण का यह सुरक्षा चक्र अभेद्य नहीं है क्योंकि जीका के वायरस इस चक्र को आसानी से भेद जाते हैं. टुलाने यूनिवर्सिटी के शोधकर्ता और इस अध्ययन के सह-लेखक गिओवन्नी पीडिमोंटे ने कहा, ‘इस अध्ययन में पहली बार यह पता लगाया है कि एक साधारण जुकाम का वायरस मनुष्य की गर्भनाल को कैसे संक्रमित कर सकता है.’ पीडिमोंटे ने कहा, ‘यह अध्ययन हमारे सिद्धांत के अनळ्रूप है. जब एक महिला गर्भावस्था के दौरान जुकाम से संक्रमित होती है तो इसका वायरस के भ्रूण में भी फैल सकता है और जन्म से पहले ही बच्चे के फेफड़ों में संक्रमण फैल

इमरान सरकार की मुश्किल बने देशद्रोह व भ्रष्‍टाचार के आरोप में, ये तीन बड़े सियासतदार

शोधकर्ताओं ने गर्भनाल के अध्ययन के दौरान इसमें पाई जाने वाली तीन प्रमुख कोशिकाओं साइटोट्रॉफोबलास्ट, स्ट्रोमा फाइब्रोब्लास्ट्स और हॉफबॉयर को अलग कर कर इनमें जुकाम के लिए जिम्मेदार वायरस का पता लगाया, जो सामान्य सर्दी-जळ्काम का कारण बनता है. शोधकर्ताओं ने कहा, ‘साइटोटोप्रोब्लास्ट कोशिकाएं एक सीमा तक जुकाम के संक्रमण को झेलने में सक्षम थी, वहीं अन्य दो खतरनाक संक्रमणों के लिए भी ये अतिसंवेदनशील थी.’ कोशिकाओें की जांच के दौरान शोधकर्ताओं ने पाया कि हॉफबॉयर कोशिकाएं संक्रमण से बच गई थी, पर इसकी दीवारों की झिल्लियों पर वायरस जरूर देखे गए. ये कोशिकाएं गर्भनाल जाती हैं और इसकी दीवारों पर चिपके वायरस इसके जरिये भ्रूण तक पहुंचकर उसे संक्रमित कर सकते हैं.

करतारपुर साहिब गुरद्वारे आने वाले सिख श्रद्धालुओं को पाकिस्तानी मौलवी ने दी धमकी

टाइफून कम्मुरी की चपेट में फ‍िलीपींस, सरकार ने जारी किया अलर्ट

इमरान खान का दोहरा चेहरा फिर आया सामने, हिन्दुओं पर विवादित टिप्पणी करने वाले को बनाया मंत्री