देश के प्रतिष्ठित संस्थान एम्स के कर्मचारी की हुई डेंगू से मौत

Sep 11 2015 12:40 PM
देश के प्रतिष्ठित संस्थान एम्स के कर्मचारी की हुई डेंगू से मौत

नई दिल्ली : देश के प्रतिष्ठित संस्थान एम्स में 45 वर्षीय एक कर्मचारी की डेंगू की वजह से मौत हो गई है. नजफगढ़ में रहने वाले इस व्यक्ति का नाम बलवान बताया जा रहा है. वह कार्यालय अटेंडेंट के रूप में काम करता था. तेज बुखार और उल्टी होने की वजय से उसे तीन सितंबर को अस्पताल में भर्ती कराया गया था. अस्पताल अधिकारियों की माने तो उसे पांच सितंबर को आईसीयू में भर्ती कराया गया था और जिसके बाद में उसकी मौत हो गई. एक वरिष्ठ एम्स अधिकारी ने बताया कि‘‘इस बात की पुष्टि हो गयी है कि वह डेंगू से ग्रस्त था. एम्स के अधिकारियों ने हालांकि इस बात की अभी पुष्टि नहीं की है कि व्यक्ति की एलीसा जांच हुई थी या नहीं.

अगर बलवान के मामले को दिल्ली नगर निगम :एमसीडी डेंगू का मामला मानता है तो अब मृतकों की संख्या बढ़कर तीन हो जायेगी. इससे पहले डेंगू से दो मौतें आधिकारिक रूप से दर्ज की जा चुकी है ये दोनों मृतक उत्तरी दिल्ली के थे. नगर निकाय के नियमों के मुताबिक एलीसा जांच द्वारा पुष्टि हुए डेंगू के मामले ही आधिकारिक मामले माने जाते हैं. गौरतलब है कि पांच अगस्त को मणिपुर निवासी 10 साल की एक लड़की की एम्स में मौत हो गई थी. उसे पिछले एक हफ्ते से बुखार था. वह दक्षिण दिल्ली से थी.

उसका एलीसा जांच नहीं किया गया था जिसके चलते नगर निकाय ने उसे डेंगू का मामला नहीं माना था. हाल ही में एम्स के एक टेकनिशियन के बेटे की तेज बुखार के कारन मौत हो गई थी. जिस कारण वर्कर्स यूनियन के सदस्यों ने उसे डेंगू का मामला बताया था. आधिकारिक आंकड़ों के की माने तो दिल्ली में पांच सितंबर तक इस साल डेंगू के 1,259 मामले दर्ज किए गए हैं जिनमें 428 मामले इस महीने के प्रथम सप्ताह में ही दर्ज किए जा चुके है.