आखिर किस मिशन में जुटा हुआ है PFI ? दिल्ली से कट्टरपंथी संगठन का चीफ परवेज आलम गिरफ्तार

नई दिल्ली: पूरे देश में कट्टरपंथी इस्लामी संगठन पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया (PFI) के खिलाफ जारी कार्रवाई के बीच राजधानी दिल्ली में भी राष्ट्रीय जांच एजेंसी (NIA) की छापेमारी की कार्रवाई जारी है। NIA ने दिल्ली में PFI के चीफ परवेज आलम को अरेस्ट कर लिया है। आतंकी कनेक्शन को लेकर जांच एजंसियों के निशाने पर आई PFI के 3 एजेंट को दिल्ली में दबोचा गया है। नोएडा में भी ATS और NIA की टीम की छापेमारी जारी है। 

इस बीच खतरे की आशंका के चलते दिल्ली में NIA के कार्यालय की सुरक्षा बढ़ा दी गई है। देश के कई हिस्सों में छापेमारी के खिलाफ PFI के सदस्य सड़कों पर विरोध में उतर आए हैं। NIA और ED ने गुरुवार सुबह 10 राज्यों में आतंकी वित्त पोषण में कथित तौर पर शामिल संदिग्धों के ठिकानों पर रेड मारी थी। छापेमारी के दौरान NIA और ED ने आतंकियों का समर्थन करने के आरोप में PFI के करीब 100 कार्यकर्ताओं को पकड़ा है।'

अधिकारियों द्वारा दी गई जानकारी के अनुसार, छापेमारी मुख्यत: दक्षिण भारत में की जा रही है और NIA ने इसे 'अब तक का सबसे बड़ा जांच अभियान' बताया है। NIA ने कहा कि आतंकवदियों को फंडिंग करने, उनके लिए ट्रेनिंग की व्यवस्था करने और लोगों को प्रतिबंधित संगठनों से जुड़ने के लिए बरगलाने में शामिल लोगों के ठिकानों पर छापे मारे जा रहे हैं। अधिकारियों के मुताबिक, छापेमारी दस राज्यों में की जा रही है और इस दौरान PFI के शीर्ष नेताओं समेत तक़रीबन 100 कार्यकर्ताओं को हिरासत में लिया जा चुका है।

भारत को 2047 तक इस्लामी देश बनाना है PFI का लक्ष्य:-

बता दें कि, कट्टरपंथी इस्लामी संगठन PFI भारत को इस्लामी राष्ट्र बनाने के लिए ‘मिशन 2047’ पर काम कर रहा है। बिहार पुलिस ने इस साजिश का भंडाफोड़ किया है। PFI 2047 तक भारत को मुस्लिम मुल्क बनाने की साजिश रच रहा है और PFI ने इसके लिए बाकायदा चार स्टेज में योजना बना रखी है। बरामद दस्तावेज में यह खुलासा हुआ है, जिसमे कट्टरपंथ संगठन का स्पष्ट कहना है कि 75 वर्ष पूर्व एक इस्लामिक मुल्क (पाकिस्तान) भारत से अलग हुआ और जब 2047 में भारत आजादी के 100 वर्ष मनायेगा, तब तक भारत पूरी तरह इस्लामिक राष्ट्र में बदल जाएगा। पुलिस ने बताया कि डॉक्यूमेंट में यह भी कहा गया है कि 10 फीसद मुसलमान ही मेजॉरटी को घुटनों पर बैठाने के लिए काफी हैं और यदि 10 फीसद मुसलमान PFI के साथ जुड़ जाएं, तो 2047 तक भारत को मुस्लिम मुल्क बनने से कोई रोक नहीं सकता। 

PFI ने बाकायदा अपने मिशन को कामयाब करने के लिए चार स्टेज में प्लान बना रखा है, जिसमें अधिक से अधिक मुस्लिमों को PFI से जोड़ना और देश के खिलाफ जंग करने जैसी बातें भी शामिल है। दस्तावेज में स्पष्ट लिखा हुआ है कि मुस्लिमों को एक करना है और हिन्दुओं में फूट डालना है। यही नहीं PFI मुसलमानों को मार्शल के तौर पर तैयार करेगी और फिर यह लोग मुसलमानों की मुखालफत करने वाले लोगों पर हमला करेंगे। चौथे चरण में PFI सत्ता हाथ में लेने का भी प्रयास करेगा और इसके लिए वह भारत से युद्ध करने के लिए भी तैयार है। PFI ने बताया है कि विश्व के इस्लामिक देश इस काम में उसे मदद भी देंगे। बता दें कि, कई आतंकी संगठन भी इसी मिशन पर काम कर रहे हैं, ऐसे में PFI और आतंकी संगठनों की मिलीभगत से इंकार नहीं किया जा सकता है।

दिग्गी राजा को भी बनना है कांग्रेस अध्यक्ष ! गहलोत-थरूर के बाद रेस में नया नाम शामिल

यूपी के नाम दर्ज हुआ शर्मनाक रिकॉर्ड, जहरीली शराब से हुई मौतों के मामले में बना अव्वल

आज इतिहास रचेगी यूपी विधानसभा, पूरा दिन महिलाओं के नाम.., बोलेगी 'नारीशक्ति' सुनेगा सदन

 

 

न्यूज ट्रैक वीडियो

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -