बस्सी के UPSC के सदस्य बनने पर AAP ने जताई आपत्ति

नई दिल्ली : दिल्ली पुलिस के पूर्व कमिश्नर बी एस बस्सी कार्यकाल के दौरान जितने प्रसिद्ध थे, उतने ही प्रसिद्ध वो सेवानिवृत होने के बाद भी है। ताजा मामले उनके लोकसेवा संघ आयोग का सदस्य बनाए जाने को लेकर है। आम आदमी पार्टी ने बस्सी को यूपीएससी का सदस्य बनाए जाने पर आपत्ति जताई है। राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने बस्सी की नियुक्ति की थी।

इसके साथ ही उन अटकलों पर भी विराम लग गया था, जिसमें कहा जा रहा था कि वो किसी राज्य के राज्यपाल मनोनीत हो सकते है। आम आदमी पार्टी ने बस्सी की नियुक्ति पर कहा है कि इससे साबित होता है कि सरकार ने बीजेपी के वरिष्ठ प्रवक्ता का एहसान चुकाया है।

आप नेता आशुतोष ने नियुक्ति को सरकार का विशेषाधिकार बताते हुए कहा कि किसके इशारे पर मिस्टर बस्सी काम कर रहे थे और उनका एहसान चुकाया गया है। आशुतोष ने कहा कि हम तो पहले से कहते आ रहे है कि बस्सी बीजेपी के वरिष्ठ प्रवक्ता है। अब यह साबित हो गया।

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -