पाकिस्तान की आतंकपरस्ती की खुली पोल, आतंकियों के 5100 खाते हुए सीज़

इस्लामाबाद : आखिर एक बार फिर भारत की बात सच हुई कि पाकिस्तान आतंकवादियों को संरक्षण दे रहा हैं. जबकि पाकिस्तान इस बात से हमेशा इंकार करता रहा. इस बार पाकिस्तान की आतंकपरस्ती की पोल खुद पाकिस्तान ने खोली हैं. पाकिस्तान के गृह मंत्रालय ने आतंकवादियों के 5100 खातों की सूची बैंक को भेजी है. पाकिस्तानी सरकार के कहने पर बैंकों ने इन 5100 खातों को बंद कर दिया है.

बता दें कि पाकिस्तान के गृह मंत्रालय ने तीन-अलग सूची तैयार की हैं. इन सूचियों में उन आतंकवादियों के नाम हैं जो पाकिस्तान में बैठकर दुनिया भर में दहशत फैलाने की साजिश रचते हैं. पता चला हैं कि इन खातों में 40 करोड़ से ज्यादा राशि जमा हैं. इस सूची में जैश-ए-मोहम्मद का सरगना मसूद अजहर का नाम  ए श्रेणी वाली सूची में शामिल हैं.  मसूद अजहर का स्टेट बैंक ऑफ पाकिस्तान में खाता था, जो फिलहाल बंद  है. पाकिस्तानी गृह मंत्रालय की ए श्रेणी की सूची में 1200  बेहद खूंखार आतंकियों के नाम हैं.  इनमें 27 ऐसे खाते हैं जो पाकिस्तान की राजधानी इस्लामाबाद से चल रहे हैं.

ज्ञातव्य हैं कि भारत संयुक्त राष्ट्र संघ से मसूद अजहर को आधिकारिक तौर पर आतंकी घोषित करने की मांग कर चुका है. भारत ने यूएन में कई बार पाकिस्तान को घेरा है. पाकिस्तानी सेना और खुफिया एजेंसी आतंकवादियों को पालने के लिए दुनिया भर में कुख्यात है. लेकिन पहली बार पाकिस्तान सरकार ने आधिकारिक तौर पर मान लिया है कि उसके यहां कई आतंकवादी रह रहे हैं.

अब पाक अखबारों ने भी उठाए अजहर-हाफिज...

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -