जम्मू-कश्मीर में फिर 'आतंक' की तैयारी, घुसपैठ की फ़िराक में बैठे लगभग 150 दहशतगर्द

Jul 21 2021 03:56 PM
जम्मू-कश्मीर में फिर 'आतंक' की तैयारी, घुसपैठ की फ़िराक में बैठे लगभग 150 दहशतगर्द

श्रीनगर: LoC पर शांति बहाली और पीएम मोदी के नेतृत्व में वादी के सियासी दलों के साथ सर्वदलीय बैठक के बाद जम्मू-कश्मीर विकास की दिशा में आगे बढ़ रहा है, किन्तु केंद्र शासित प्रदेश में शांति का माहौल पड़ोसी देश को रास नहीं आ रहा है. खुफिया जानकारी के अनुसार, घाटी की शांति को भंग करने के लिए आतंकी घुसपैठ के लिए मौका खोज रहे हैं. घुसपैठ के लिए बॉर्डर पार लगभग 150 आतंकी मौजूद हैं. इनमें से लगभग 80 आतंकी जम्मू से सटी बॉर्डर पर देखे गए हैं. वहीं, कश्मीर में LoC के उस पार लगभग 70 आतंकी घुसपैठ करने की फिराक में हैं.

बताया जा रहा है कि वो घुसपैठ कर जम्म-कश्मीर में सुरक्षा बलों को निशाना बनाने का प्रयास कर सकते हैं. यह आतंकी अलग-अलग समूह में घुसपैठ कर सकते हैं और इनके पास आधुनिक हथियार भी मौजूद हैं. खुफिया रिपोर्ट के अनुसार, आतंकी पुंछ के नज़दीक एलओसी, कृष्णा घाटी, बिम्बर गली, नौशेरा, टंगडार, उरी और नौगाम के आसपास के इलाकों में देखे गए हैं. यह सभी आतंकी लश्कर, जैश, हिज़्बुल मुजाहिदीन और अल बदर से ताल्लुक रखते हैं.

एक ओर आतंकी बॉर्डर पर घुसपैठ की फिराक में हैं, तो वहीं दूसरी ओर जम्मू में एक बार फिर बुधवार को ड्रोन देखा गया है. यह ड्रोन सुबह लगभग 4:00 बजे सतवारी इलाके में देखा गया. ड्रोन की खबर मिलने के बाद सुरक्षा एजेंसियों ने तलाशी अभियान शुरू किया, किन्तु कुछ मिल नहीं पाया. बताया जा रहा है कि दोनों ड्रोन बहुत ऊंचाई पर थे, हालांकि 15 अगस्त की तैयारियों के चलते सुरक्षा एजेंसियां पहले से ही अलर्ट हैं.

मेघालय पुलिस ने हाइनीवट्रेप नेशनल लिबरेशन काउंसिल (HNLC) के दो कार्यकर्ताओं को किया गिरफ्तार

जानिए कौन हैं शाजिया इल्मी ? जिन्हे भाजपा ने सौंपी बड़ी जिम्मेदारी

मारुति सुजुकी ने भारत के ग्रामीण बाजारों में 50 लाख की संचयी बिक्री का लैंडमार्क किया पार