102 Not Out Review : बुढ़ापे की लाइफ का मसालेदार ड्रामा देखना न भूलें

आज से  देशभर के सिनेमाघरों में बॉलीवुड के महानायक अमिताभ बच्चन और ऋषि कपूर स्टारर फिल्म '102 नॉट आउट' ओपन हो चुकी है. हिंदी सिनेमा के दोनों दिग्गज कलाकार 27 साल बाद एक साथ बड़े परदे पर स्क्रीन शेयर करते नज़र आये हैं. फिल्म '102 नॉट आउट' काफी दिलचस्प कहानी है. जिसमें अमिताभ बच्चन 102 के उम्रदराज़ पिता दत्तात्रय वखारिया का किरदार निभा रहे हैं तो वहीँ ऋषि कपूर 75 साल के बेटे बाबूलाल का किरदार जीवंत कर रहे हैं. आइये जानते फिल्म की कहनी, निर्देशन, अभिनय और संगीत के बारे में. 

कहानी

फिल्म की कहानी मशहूर लेखक सौम्य जोशी के गुजरात नाटक पर आधारित है. फिल्म की कहानी 102 साल के बाप दत्तात्रय वखारिया (अमिताभ बच्चन) और उनके 75 साल के बेटे बाबूलाल (ऋषि कपूर) जबरदस्त कॉमेडी ड्रामा से भरी हुई है. जहाँ 102 साल दत्तात्रय वखारिया मस्तमौला उम्रदराज शख्स है तो वहीँ उनका 75 साल का बेटा बाबूलाल अपनी जिंदगी से दुखी वृद्ध है. दत्तात्रय वखारिया ठरकी किस्म का शख्स है जो की अपनी ज़िंदगी को और एन्जॉय करना चाहता है उसके लिए उम्र सिर्फ एक नंबर है. वहीँ उनका बेटा बाबूलाल अपनी स्वास्थ्य के लिए काफी चिंतित रहता है. इस बात से दत्तात्रय वखारिया काफी परेशान रहते हैं. बाप-बेटे में इस बात को लेकर काफी झगड़ा होता है. फिल्म में उनके बीच बाप-बेटे वाला प्यार भी देखने मिला था.  फिल्म में ड्रामा क्रीट करने के लिए एक और अहम किरदार है दत्तात्रय के घर का नौकर धीरू (जिमित त्रिवेदी). जो आपको बीच-बीच में हंसाएगा.  फिल्म में असली मज़ा तक आता है जब एक दिन दत्तात्रय घोषणा करता है कि वो 118 साल तक जिन्दा रहकर  दुनिया के सबसे ज्यादा जीने वाले व्यक्ति का रिकॉर्ड हांसिल करेंगे. पर इस काम के लिए उनका 75 साल का वृद्धा बेटा बाबूलाल उन्हें मुसीबत नज़र आ रहा है इसलिए वो अपने बेटे को वृद्धाश्रम भेजने की योजना बनाते हैं.  फिल्म में  दोनों बाप-बेटे की केमिस्ट्री आपको अंत तक बंधे रहेगी.

निर्देशन 

ढूंढते रह जाओगे, ओह माय गॉड, जैसी कॉमेडी फिल्म का निर्देशक कर चुके उमेश शुक्ला ने इस फिल्म  '102 नॉट आउट' का निर्देशन किया है. मुंबई की खूबसूरत लोकेशन उन्होंने फिल्म को शूट किया है. शुरू से अंत तक के किसी भी सीन्स से आप भटकेंगे नहीं. 

अभिनय

जहाँ अमिताभ बच्चन अपने अभिनय की परिपक्ता से बॉलीवुड के महानायक के नाम से मशहूर हैं तो वहीँ ऋषि कपूर अपने सिंपल अभिनय से लोगों का दिल जीत लेते हैं.  27 साल बाद एक साथ बाद फिल्म इंडस्ट्री के दोनों दिग्गज कलाकार एक साथ स्क्रीन शेयर करते नज़र आएंगे. जहाँ अमिताभ बच्चन ने 102 के उम्रदराक और ठरकी किस्म के पिता के किरदार को बड़े ही मस्त तरीके से निभाया तो वहीँ ऋषि कपूर भी वृद्ध किरदार में काफी आकर्षक दिखे. दोनों ही कलाकार इससे पहले भी उम्रदराज शख्स का किरदार निभा चुके हैं. 

संगीत 

फिल्म में सलीम-सुलैमान की जोड़ी ने संगीत दिया है.फिल्म में एक गाना 'बुडुम्बा' अमिताभ बच्चन और ऋषि ने गया है जो कि लोगों कि खूब पसंद आ रहा है. फिल्म में करीब 6 गाने हैं जो कि आपको काफी एंटरटेन करेंगे. 

फिल्म का निर्देशन काफी अच्छे ढंग से किया गया है. कहानी को दर्शाने का काफी बेहतर प्रयास किया है और वहीँ अभिनय भी काफी जबरदस्त देखने मिला है इस लिहाज़ से फिल्म को 3.5 रेटिंग देना कोई गलत नहीं होगा. 

फिल्म 'नॉटआउट 102' :आज बॉक्स ऑफिस पर धमाल मचाएगी

धीमी पड़ी एवेंजर्स की कमाई की रफ़्तार, पहले ही हफ्ते में 150 करोड़ के करीब पहुंची फिल्म

गाने की शूटिंग के दौरान आलिया ने एक ही जोड़े को 175 बार पहना

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -