नाले में बहा युवक, संतुलन बिगड़ने से हुआ हादसा

इंदौर/ब्यूरो। खेड़ापति हनुमान मंदिर के पास बुधवार दोपहर नाले में नहाने के दौरान 23 वर्षीय जफर बह गया, जबकि एक साथी को बचा लिया गया। एसआइ विशालसिंह परिहार के मुताबिक जफर पुत्र जाकिर खान नाले में नहा रहा था। वह गहरे पानी में चला गया और संतुलन बिगड़ने के दौरान बह गया, जबकि एक बच्चे को बचा लिया। टीआइ अभय नेमा ने बताया एसडीआरएफ और गोताखोरों ने सर्चिंग अभियान चलाया, पर पता नहीं चला।
 
बुधवार को हुई तेज बारिश के बाद एक महिला और एक युवक के नाले में बहने का मामला सामने आया है। बाणगंगा स्थित विशाल नगर में बुधवार रात 23 वर्षीय प्रीति जायसवाल नाले में बह गई। 200 लोगों ने तीन किमी दूर तक उसे ढूंढा लेकिन कोई पता नहीं चला। पुलिस, रहवासी और एसडीआरएफ की टीम देर रात तक सर्चिंग करती रही। पुलिस के मुताबिक किराना दुकान संचालक प्रदीप जायसवाल का विशाल नगर में नाले किनारे घर है। दो दिन से हो रही वर्ष से बहाव तेज हो गया है। स्वजन ने बताया प्रीति घर से कुछ फेंक रही थी, तभी असंतुलित होकर नाले में गिर गई। उसके साथ चार साल का बच्चा प्रियांक भी गिरा। प्रदीप ने देखा तो वह नाले की तरफ दौड़ा और प्रियांक को बचाया पर प्रीति तेज बहाव में बह गई। लोगों ने खातीपुरा नाले तक उसे ढूंढ़ा। एसडीआरएफ ने तो नाव चला कर गोताखोर उतारे, लेकिन प्रीति नहीं मिली।

शहर में मंगलवार रात से जारी भारी वर्षा के कारण बुधवार को आरटीओ में पक्के लाइसेंस के ट्रायल नहीं हो पाए। तेज वर्षा के कारण ट्रैक पर पानी भर गया है। सोमवार को ट्रायल हुए थे। मंगलवार को अवकाश था और बुधवार को भी ट्रायल नहीं हुए। अब गुरुवार को रक्षाबंधन का अवकाश है। इस कारण ट्रायल नहीं हो सकेंगे। मंगलवार रात हुई वर्षा से शहर के तालाब लबालब हो गए। यशवंत सागर में जलस्तर बढ़ने से बांध का एक गेट मंगलवार रात 12.30 बजे, दूसरा गेट रात 3 बजे और तीसरा गेट बुधवार सुबह 6.30 बजे खोला। बुधवार 12 बजे तक यशवंत सागर के तीनों गेट खुले रहे।

तिरंगा यात्रा में शामिल हुए 5 हजार छात्र-छात्राएं

तिरंगा अभियान पर बिजली वितरण कंपनी का अनोखा प्रयोग

इन प्रश्नों के उत्तर से मिलेगी प्रतियोगी परीक्षा में आपको सफलता

न्यूज ट्रैक वीडियो

Most Popular

- Sponsored Advert -