जानिए क्यों मनाया जाता है अंतरराष्ट्रीय गरीबी उन्मूलन दिवस

जानिए क्यों मनाया जाता है अंतरराष्ट्रीय गरीबी उन्मूलन दिवस

World Eradication of Poverty day प्रत्येक वर्ष 17 अक्टूबर को मनाया जाता है. इस दिवस को मनाने का उद्देश्य दुनिया भर के समुदाय में गरीबी दूर करने हेतु किये जा रहे प्रयासों के संबंध में जागरूकता को बढ़ाना है. World Eradication of Poverty day का प्रमुख उद्देश्य विकासशील देशों में निर्धनता को समाप्त करना है. यह दिवस गरीबी में रहने वाले लोगों के साथ सक्रिय भागीदारी के माध्यम से लोगों को गरीबी से बाहर लाने की कोशिश को बढ़ावा देता है. साथ ही, उनके लिए सम्मानजनक जीवन सुनिश्चित करने का प्रयास किया जाता है. 

संयुक्त राष्ट्र सतत विकास लक्ष्य में यह बताया गया है कि किसी एक विशेष वजह के चलते नहीं बल्कि भिन्न-भिन्न कारणों की वजह से लोगों को गरीबी में जीवन व्यापन का सामना करना पड़ा था. केवल आय का साधन एवं आमदनी ही गरीबी का मुख्य वजह नहीं है बल्कि भोजन, घर, भूमि, स्वास्थ्य आदि भी गरीबी के निर्धारण में अहम भूमिका निभाते हैं.

भारत में गरीबी का कारण: भारत में गरीबी और बेरोजगारी का मुख्य कारण बढ़ती जनसंख्या, कमजोर कृषि, भ्रष्टाचार, रूढ़िवादी सोच, जातिवाद, अमीर गरीब में ऊंच-नीच, नौकरी की कमी, अशिक्षा, बीमारी इत्यादि है. इंडिया एक कृषि प्रधान देश है. जिसकी एक बड़ी जनसंख्या कृषि पर निर्भर है. खराब कृषि और बेरोजगारी की वजह से लोगों को भोजन की कमी से जूझना पड़ता है. यही वजह है कि महंगाई ने भी पंख फैला रखे हैं. वहीं भारत में गरीबी का एक प्रमुख कारण बढ़ती जनसंख्या भी है.

अंतरराष्ट्रीय गरीबी उन्मूलन दिवस के बारे में: संयुक्त राष्ट्र द्वारा 22 दिसम्बर 1992 को हरेक वर्ष 17 अक्टूबर को अंतरराष्ट्रीय गरीबी उन्मूलन दिवस मनाये जाने का एलान किया गया है. इस दिवस पर भिन्न-भिन्न राष्ट्रों द्वारा गरीबी उन्मूलन हेतु प्रयास, विकास एवं विभिन्न कार्यों और योजनाओं को जारी किया जाता है. यह दिवस पहली बार वर्ष 1987 में फ्रांस में मनाया गया था. इस दिवस में लगभग एक लाख लोगों ने मानव अधिकारों हेतु प्रदर्शन किया था. यह आंदोलन एटीडी फोर्थ वर्ल्ड के संस्थापक जोसफ व्रेंसिकी द्वारा शुरू किया गया था.

सिनोवैक कोरोना वैक्सीन बेचने के लिए तैयार हुआ चीन का ये शहर, तय किए भाव

कोरोना रोगियों पर रेमेडिसविर का बहुत कम या कोई प्रभाव नहीं है: WHO

अंडरगारमेंट्स में पैसे पाए जाने के बाद प्रीज़ का सहयोगी हुआ गिरफ्तार