सिनोवैक कोरोना वैक्सीन बेचने के लिए तैयार हुआ चीन का ये शहर, तय किए भाव

सिनोवैक कोरोना वैक्सीन बेचने के लिए तैयार हुआ चीन का ये शहर, तय किए भाव

बीजिंग: चीन का जियाक्सिन शहर आपात स्थिति में सिनोवैक कोरोना वैक्सीन बेचने के लिए राजी हो गया है। उसने कोरोना वैक्सीन की कीमत भी निर्धारित कर दी है। खबरों के अनुसार, आवश्यक मजदूरों और अन्य उच्च जोखिम समूह वाले लोगों को तक़रीबन 60 डॉलर यानी लगभग साढ़े चार हजार रुपये में वैक्सीन बेचने की बात कही गई है। 

रोग नियंत्रण और रोकथाम (CDC) के लिए पूर्वी शहर जियाक्सिन के केंद्र ने वीचैट पर एक बयान में कहा कि कोरोनावैक नामक वैक्सीन का मूल्य 200 युआन (29.75 डॉलर प्रति खुराक) यानी लगभग 2200 रुपये होगी। रिपोर्ट के अनुसार, चीन ने इमरजेंसी एप्रूवल के तहत स्वास्थ्य आदि जरुरी सेवाओं से संबंधित लाखों कर्मचारी और उच्च जोखिम समूह वाले लोगों को कोरोना वैक्सीन की खुराक देना आरंभ कर दिया था। हालांकि चीनी वैक्सीन के आखिरी चरण के ट्रायल का रिजल्ट सामने नहीं आया है। बता दें कि लंबे वक्त तक वैक्सीन इस्तेमाल के लिए तीसरे चरण का ट्रायल पूरा किए जाने की आवश्यकता होती है। 

बता दें कि चीन में तीन वैक्सीन कैंडिडेट को आपातकालीन प्रयोग की इजाजत दी गई है। इनमें सिनोवैक, सीएनबीजी और कैनसिनो बायोलॉजिकल कंपनी की वैक्सीन शामिल हैं। वहीं चीन, अब जल्द ही अपने देश में पढ़ रहे विद्यार्थियों को कोरोना का टीका लगाना शुरू करने वाला है। इसके लिए चीन दो वैक्सीन बना रहा है। चीन की सरकारी फार्मा कंपनी सिनोफॉर्म ग्रुप (sinofarm) की एक यूनिट कोरोना की दो वैक्सीन बना रही है। यह वैक्सीन उच्च शिक्षा के लिए चीन से बाहर जाकर पढ़ने जाने वाले बच्चों को दी जाएगी।  वाल स्ट्रीट जर्नल की रिपोर्ट के अनुसार, इस वैक्सीन के लिए स्टूडेंट्स को चाइन नेशनल बॉयोटेक ग्रुप कॉरपोरेशन (CNBG) कंपनी की वेबसाइट पर जाकर पंजीकरण कराना होगा।

कोरोना रोगियों पर रेमेडिसविर का बहुत कम या कोई प्रभाव नहीं है: WHO

अंडरगारमेंट्स में पैसे पाए जाने के बाद प्रीज़ का सहयोगी हुआ गिरफ्तार

एक रैली में ट्रम्प ने जो बिडेन पर निशाना साधते हुए कही ये बात