कामकाजी महिलाओं को प्रसव के दौरान मिलेगा 8 माह का आराम

Sep 02 2015 11:54 AM
कामकाजी महिलाओं को प्रसव के दौरान मिलेगा 8 माह का आराम

नई दिल्ली : महिलाओं के लिए यह बात सुखद हो सकती है कि अब उन्हें प्रसव के दौरान कार्य से मिलने वाली छूट को बढ़ाया जा सकता है। जी हां, अब प्रसव के दौरान वे अधिक माह तक आराम कर सकेंगी। मिली जानकारी के अनुसार महिला एवं बाल कल्याण विभाग द्वारा एक नया प्रपोजल तैयार किया गया है जिसमें मैटरनिटी लीव को बढ़ाने का प्रस्ताव सामने रखा गया है। यदि इस पर अमल किया गया तो मैटरनिटी लीव 3 माह से बढ़ाकर 8 माह तक की जा सकेगी।

मिली जानकारी के अनुसार महिलाओं को डिलिवरी के लिए पहले तो प्रसव की संभावित तिथि से पहले मिलने वाली लीव के ही साथ डिलेवरी के बाद करीब 7 माह का समय दिया जाएगा। इस दौरान डब्ल्यूसीडी द्वारा श्रम मंत्रालय की ओर सुझाव पहुंचाया है जिसमें वर्किंग वुमन को मिलने वाले लाभ की बात कही गई है। यही नहीं इस दौरान यह भी कहा गया कि मैटरनिटी लीव को 8 माह करने का प्रस्ताव तैयार करने के बाद कैबिनेट मंत्रालय को भेज दिया गया है। अब गेंद सरकार के पाले में है और उसे ही इस पर निर्णय लेना है।